https://www.fapjunk.com https://fapmeister.com

भीमराव अंबेडकर की पत्नी का नाम क्या था, भीमराव अंबेडकर की दूसरी पत्नी का नाम क्या था

भीमराव अंबेडकर की पत्नी का नाम क्या था – भीमराव अम्बेडकर का परिवार मराठी मूल का है। अम्बेडकर के वंशज आज भी देश के लिए सामाजिक कार्य कर रहे हैं। भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को ब्रिटिश भारत के मध्य भारत प्रांत में स्थित महू नगर सैन्य छावनी में हुआ था। भीमराव जी को अपनी जाति के कारण छुआछूत और अनेक प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। अम्बेडकर ने 7 नवम्बर 1900 को अंग्रेजी की प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया, जिसे सातारा नगर के राजवाड़ा चौक स्थित राजकीय उच्च विद्यालय के नाम से जाना जाता था। इस दिन से, 7 नवंबर को महाराष्ट्र में विद्यार्थी दिवस के रूप में मनाया जाता है। भीमराव अंबेडकर अक्टूबर 1916 में लंदन गए और वहां ग्रेज इन में बैरिस्टर कोर्स में प्रवेश लिया, फिर लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में प्रवेश लेने के बाद अर्थशास्त्र की डॉक्टरेट थीसिस पर काम करना शुरू किया।

आज के इस लेख में हम आपको भीमराव अंबेडकर की पत्नी का नाम क्या था, भीमराव अंबेडकर की दूसरी पत्नी का नाम क्या था के बारे में जानकारी देने वाले है। अगर आप उपरोक्त जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े। तो आइये शुरू करते है और जानते है भीमराव अंबेडकर की पत्नी का क्या नाम था इन हिंदी (Bhimrao Ambedkar Ki Patni Ka Kya Naam Tha) –

भीमराव अंबेडकर की पत्नी का नाम क्या था इन हिंदी (Bhimrao Ambedkar Ki Patni Ka Naam Kya Tha)

भीमराव अम्बेडकर जी ने अपने जीवन में 2 शादियाँ की, उनकी पहली पत्नी का नाम रमाबाई अम्बेडकर और दूसरी पत्नी का नाम डॉ. सविता अम्बेडकर था। उनका एक ही बेटा है जिसका नाम यशवंत अम्बेडकर है और उनके चार बच्चों की बचपन में ही मृत्यु हो गई थी। भीमराव बाबासाहेब वर्ष 1947 के आसपास मधुमेह और रक्तचाप के शिकार थे। डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने अपनी पहली पत्नी के देहांत के कई सालों के पश्चात उनकी चिकित्सा करने वाली डॉक्टर सविता से दूसरी शादी कि थी।

भीमराव अंबेडकर की दूसरी पत्नी का नाम क्या था (Bhimrao Ambedkar Ki Dusri Patni Ka Naam Kya Tha)

- Advertisement -

भीमराव अंबेडकर की दूसरी पत्नी का नाम डॉक्टर सविता था, अपनी पहली पत्नी के मृत्यु के कई वर्षो के पश्चात उन्होंने डॉक्टर सविता से दूसरी शादी कर ली थी।

भीमराव अंबेडकर के बारे में (About Bhimrao Ambedkar In Hindi)

संविधान निर्माता कहे जाने वाले बाबासाहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर का पूरा नाम भीमराव रामजी अम्बेडकर है। उनका जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश में इंदौर के पास महू छावनी में एक महार परिवार में हुआ था, जबकि उनका पैतृक गांव महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में मंडणगढ़ तहसील के अंतर्गत आम्ब्रावेडे है। उनके पिता का नाम रामजी राव व दादा का नाम मालोजी सकपाल था।

बाबासाहेब का बचपन का नाम भीमराव एकपाल उर्फ ‘भीमा’ था। उनके पिता रामजी राव सेना में कार्यरत थे। पिता रामजी कबीर पंथ के बड़े अनुयायी थे, वहीं उनकी माता भीमाबाई भी धार्मिक स्वभाव की गृहिणी थीं।

भीमराव अपने माता-पिता की 14 संतानों, 11 लड़कियों और 3 लड़कों में से अंतिम संतान थे। भीमराव के पूर्व के 13 बच्चों में से केवल 4 बच्चे बलराम, आनंदराव, मंजुला और तुलसा जीवित थे, जबकि उनके बाकी भाई-बहनों की अकाल मृत्यु हो गई थी।

20 नवंबर, 1896 को मात्र 5 वर्ष की आयु में उनके सिर से माता का साया उठ गया था। इसके बाद उनकी मौसी मीरा ने चारों बहनों और भाइयों की देखभाल की। भीमराव बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि के थे। वे पढ़ने में बहुत तेज थे। उनकी अद्वितीय प्रतिभा से प्रभावित होकर एक पसंदीदा ब्राह्मण शिक्षक ने उन्हें ‘अम्बेडकर’ उपनाम दिया, जो बाद में उनके मूल नाम का एक अभिन्न अंग बन गया।

वर्ष 1908 में जब भीमराव केवल 17 वर्ष के थे, तब उनका विवाह हो गया। वे रमाबाई से परिणय सूत्र में बंध गए। तब रमाबाई की उम्र महज 14 साल थी। विवाह के बाद डॉ. भीमराव उच्च शिक्षा के लिए विदेश चले गए और फिर देश लौटकर सेवा करने लगे।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने आपको भीमराव अंबेडकर की पत्नी का नाम क्या था, के बारे में जानकारी दी है। हमे उम्मीद है आपको यह लेख अच्छा लगा होगा, अगर आपको यह लेख भीमराव अंबेडकर की दूसरी पत्नी का क्या नाम था (Bhimrao Ambedkar Ki Dusri Patni Ka Kya Naam Tha) अच्छा लगा है तो इसे अपनों के साथ भी शेयर करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles

You cannot copy content of this page