IMEI क्या है? और कैसे पता करे – Full Form Of IMEI In Hindi

What Is IMEI Full Form In Hindi: आईएमईआई का फुल फॉर्म (IMEI Ka Full Form) अंतर्राष्ट्रीय मोबाइल उपकरण पहचान (International Mobile Equipment Identity) है। IMEI नंबर में उस मोबाइल से जुड़ी लगभग सभी जानकारी दी जाती है। अपने फोन से *#06# डायल करके इस नंबर तक पहुंचा जा सकता है।

प्रत्येक मोबाइल में 15 अंकों का IMEI नंबर दिया जाता है जो उस मोबाइल की पहचान होती है। यह नंबर इसलिए भी खास है क्योंकि इसमें कई तरह की जानकारियां छिपी होती हैं जैसे कि मोबाइल का मॉडल क्या है, इसे कहां बनाया गया आदि। बिना IMEI नंबर के फोन इस्तेमाल करने पर कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।

एक रिपोर्ट के अनुआर, देश में करीब ढाई करोड़ लोग लंबे समय से बिना IMEI नंबर वाले मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे थे। ये मोबाइल 30 नवंबर 2009 से बंद कर दिए गए थे।

ऐसे में अब यह सवाल उठता है कि आईएमईआई नंबर होता क्या है और कैसे बनाया जाता है। आज के इस लेख आईएमईआई का फुल फॉर्म (IMEI Ka Full Form) में हम आपको आईएमईआई के बारे में जानकारी देने वाले है।

आज के लेख में आप जानेगे की आईएमईआई नंबर होता क्या है, आईएमईआई का फुल फॉर्म क्या है, आईएमईआई नंबर क्या करता है, आईएमईआई नंबर कैसे काम आता है, आईएमईआई नंबर के फायदे और आईएमईआई नंबर कैसे बनता है। इसलिए इस लेख के अंत तक बने रहे।

तो आइये आपका ज्यादा समय न लेते हुए आज का यह लेख शुरू करते है और जानते है की आईएमईआई नंबर क्या है (IMEI Number Kya Hai In Hindi) –

आईएमईआई नंबर क्या है? (What Is IMEI Number In Hindi)

IMEI एक यूनिक नंबर होता है, जिसका उपयोग मोबाइल नेटवर्क पर डिवाइस की पहचान करने के लिए किया जाता है। IMEI नंबर 15 अंक होते हैं और यह आपके मोबाइल फोन की विशिष्ट पहचान (यूनिक आइडेंटिटी) की तरह होता है।

इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी या आईएमईआई नंबर मोबाइल फोन डिवाइस में पहचान हेतु एक डिवाइस आइडेंटिटी संख्या होती है जो अन्य किसी भी उपकरण से भिन्न होती है।

ये नंबर GSM, CDMA और IDEN और कुछ सैटेलाइट फोन में भी पाए जाते हैं। यह संख्या 15 अंकों (कभी-कभी 16 और 17 अंकों की भी) होती है, जिसमें मोबाइल फोन डिवाइस के मॉडल, उसके निर्माण की जगह और मोबाइल (डिवाइस) के सीरियल नंबर के बारे में लिखा होता है।

आईएमईआई का फुल फॉर्म क्या है? (IMEI Full Form In Hindi)

आईएमईआई का फुल फॉर्म इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी (International Mobile Equipment Identity) है। जिसे हिंदी में अंतर्राष्ट्रीय मोबाइल उपकरण पहचान कहते है।

आईएमईआई नंबर क्या करता है?

यह खास नंबर मोबाइल की लोकेशन बताता है। इसकी मदद से यह पता चल सकता है कि मोबाइल इस्तेमाल करने वाला यूजर कहां पर है। फोन चोरी या खो जाने की स्थिति में इस नंबर की मदद से ही फोन को ट्रेस किया जा सकता है। यह नंबर मोबाइल की बैटरी पर लिखा होता है।

यह एक यूनिक नंबर है जो हर फ़ोन के लिए अलग होता है। आईएमईआई नंबर का सबसे अध्क फायदा अपराधियों को पकड़ने में होता है। इसके अलावा किसी का फोन चोरी होने की स्थिति में उस चोर को इस नंबर की मदद से पकड़ा जा सकता है।

आईएमईआई नंबर कैसे काम आता है? (IMEI Number Work In Hindi)

किसी भी फोन का IMEI नंबर उस फोन की मौजूदा लोकेशन बताता है। यानी इसके जरिए यह पता लगाया जा सकता है कि फेसलेस शख्स किस जगह पर खड़ा है। अगर किसी व्यक्ति का फोन खो जाता है या चोरी हो जाता है तो उस फोन की बैटरी के नीचे लिखे IMEI नंबर से भी उस फोन का पता लगाया जा सकता है। अगर किसी को अपने मोबाइल फोन का IMEI नंबर नहीं पता है तो उसे अपने फोन से *#06# डायल करना होगा।

आईएमईआई नंबर कैसे पता करे? (How To Know IMEI Number In Hindi)

#1. अगर आप अपने मोबाइल का आईएमईआईनंबर पता करना चाहते हैं तो अपने फोन से *#06# नंबर डायल करें। डायल करने के बाद आईएमईआई नंबर स्क्रीन पर दिखाई देगा। इसे लिख कर कहीं सुरक्षित रख लें, अगर आपके पास स्मार्टफोन है तो आप इसका स्क्रीनशॉट भी ले सकते हैं।

#2. इसके अलावा आईएमईआई नंबर का पता फोन की सेटिंग से भी इसका पता लगाया जा सकता है। एंड्राइड फोन पर IMEI नंबर जानने के लिए सेटिंग ऑप्शन में जाएं। इसके बाद अबाउट, फिर IMEI चुनें। IMEI जानकारी प्राप्त करने के लिए Status पर टैप करें और स्क्रीन को नीचे स्क्रॉल करें।

#3. अगर आपके पास आईफोन 5 या आईफोन का कोई लेटेस्ट वर्जन है तो उसके बैकपैनल पर IMEI दिखाई देगा। बस फोन को पल्टे और कहीं लिख लें। iPhone 4s और पुराने मॉडल पर IMEI सिम ट्रे पर प्रिंट होता है।

#4. अगर आपने अपना फोन बॉक्स और बिल सुरक्षित रखा है तो यह नंबर आपको आसानी से मिल जाएगा। IMEI नंबर हर फोन के रिटेल बॉक्स और बिल दोनों पर दिया होता है। इसलिए फोन के बॉक्स और बिल को हमेशा संभाल कर रखना चाहिए। इतना ही नहीं, अगर आप भविष्य में अपना फोन बेचना चाहते हैं तो यह बॉक्स आपके बहुत काम आ सकता है। आपको बॉक्स के किनारे स्टीकर पर IMEI नंबर लिखा हुआ मिलेगा।

आईएमईआई नंबर कैसे बनता है? (How Is IMEI Number Generated In Hindi)

15 अंकों के IMEI नंबर में कई चीजें शामिल होती हैं। जैसे इसके स्टार्टिंग 8 अंक बताते हैं कि यह मॉडल कहां बनाया गया था। बाद के 6 अंकों में डिवाइस से संबंधित जानकारी शामिल होती है। और आखिरी अंक को मोबाइल के सॉफ्टवेयर के वर्जन के रूप में बताया जाता है। इस तरह IMEI नंबर तैयार होता है, जिसमें मोबाइल से जुड़ी कई अहम जानकारियां होती हैं।

आईएमईआई नंबर का मुख्य कार्य क्या है?

IMEI नंबर का मुख्य काम मोबाइल की पहचान करना होता है। लेकिन इसके अन्य लाभ भी हैं जैसे मोबाइल फोन की चोरी को रोकना और मोबाइल ट्रैकिंग में पुलिस की मदद करना।

सभी मोबाइल में एक यूनिक IMEI नंबर होता है, इसे बदला नहीं जा सकता, भले ही चोर किसी अन्य सिम का उपयोग करता हो। वह मोबाइल फोन का उपयोग नहीं कर सकता है यदि उसे ब्लॉक कर दिया गया हो। डिवाइस के हार्डवेयर में IMEI नंबर अच्छी तरह से हार्ड कोडेड होता है, जिससे मोबाइल को खराब किए बिना इसे हटाना इतना आसान नहीं होता है।

यदि हमारा मोबाइल फोन कभी चोरी हो गया हो और यदि हमने कोई शिकायत की है तो हमारे सेवा प्रदाता के पास उस मोबाइल फोन को IMEI नंबर द्वारा ब्लैकलिस्ट करने और उसके सटीक स्थान को ट्रैक करने का विकल्प है।

क्या सरकार आईएमईआई नंबर को ट्रैक कर सकती है?

इसका जवाब है हाँ। अगर कोई ऐसी चीज है जिसमें सरकार को आपकी डिटेल्स की जरूरत है तो वो डिटेल्स देख सकते हैं। यदि ऐसी कोई समस्या है जहां आपके IMEI नंबर पर आपकी व्यक्तिगत जानकारी उपलब्ध नहीं है तो सरकार को आपकी जानकारी के लिए इसे ट्रैक करना होगा।

अगर आपका मोबाइल कहीं गुम हो गया है तब भी आप अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करके अपना मोबाइल ढूंढ सकते हैं। अगर आपका मोबाइल फोन चालू है तो इसे बहुत आसानी से ट्रैक किया जा सकता है। एक बात याद रखनी चाहिए कि कभी भी अपना IMEI नंबर किसी और के साथ शेयर न करें क्योंकि हैकर्स भी इसके जरिए आपकी लोकेशन ट्रैक कर सकते हैं।

आईएमईआई नंबर के फायदे (Benefits Of IMEI Number In Hindi)

  • आईएमईआई नंबर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल अपराधियों को पकड़ने में किया जाता है।
  • किसी का फोन चोरी होने की स्थिति में IMEI नंबर की मदद से उस चोर को पकड़ा जा सकता है।

गांठ बांध लें ये बातें

  • IMEI नंबर किसी के साथ शेयर न करे।
  • IMEI नंबर को संभाल कर रखे। इसके लिए IMEI को कही लिखकर रख ले। क्योकि पुलिस भी IMEI नंबर से ही फोन को ट्रैक करती है।
  • IMEI नंबर फ़ोन बॉक्स पर भी लिखा होता है इसलिए हो सके तो मोबाइल खरीदने के बाद बॉक्स को संभाल कर रखे।

यह भी पढ़े – 

FAQs For IMEI Ka Full Form Kya Hai

आईएमईआई का पूरा नाम क्या है?
आईएमईआई का पूरा नाम इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी (International Mobile Equipment Identity) है।

आईएमईआई को हिंदी में क्या कहते है?
आईएमईआई को हिंदी में अंतर्राष्ट्रीय मोबाइल उपकरण पहचान कहा जाता है।

आईएमईआई नंबर कैसे देखे?
इसके लिए फ़ोन से *#06# डायल करे।

आईएमईआई का मतलब क्या है?
आईएमईआई का मतलब होता है – इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी (International Mobile Equipment Identity)।

IMEI नंबर में डिजिट कितने होते हैं?
IMEI नंबर में 15 डिजिट होते हैं।

आईएमईआई नंबर कैसा दिखता है?
आईएमईआई ऐसा दिखता है – IMEI: 000847009315800। आईएमईआई नंबर इस तरह दीखता है लेकिन डिजिट अलग होते है। केवल हमने आपकी जानकारी के लिए डिजिट में फेर बदल किया है।

निष्कर्ष

हमने आपको आईएमईआई नंबर क्या है, आईएमईआई नंबर कैसे काम करता है और अपना आईएमईआई नंबर कैसे पता करे के बारे में पूरी जानकारी दी है। उम्मीद करते है आपको यह लेख आईएमईआई का फुल फॉर्म (IMEI Ka Full Form) अच्छे से समझ में आ गया होगा।

अगर आपको यह लेख आईएमईआई नंबर क्या होता है (IMEI Number Kya Hota Hai In Hindi) अच्छा लगा है तो इसे अपनों के साथ भी शेयर करे।

इस लेख आईएमईआई फुल फॉर्म इन हिंदी के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद।

अगर आपका मोबाइल फोन चोरी हो जाता है तो थाने में एफआईआर दर्ज कराते समय आपको आईएमईआई नंबर की जानकारी भी देनी पड़ती है। फिर स्थानीय कानून के आधार पर, आपके फ़ोन को नेटवर्क का उपयोग करने या उससे कॉल करने से अवरोधित किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles