मदरबोर्ड क्या है, प्रकार और भाग – (Motherboard Kya Hota Hai)

What Is Motherboard In Hindi: अगर आप कंप्यूटर में रुचि रखते हैं तो आपने कंप्यूटर मदरबोर्ड का नाम जरूर सुना होगा क्योंकि यह कंप्यूटर की रीढ़ की हड्डी है। इसके बगैर हम कंप्यूटर के उपकरणों को कनेक्ट नहीं कर सकते। कंप्यूटर के सभी कंपोनेंट्स को मदरबोर्ड आपस में जोड़े रखती है।

लेकिन आपको मदरबोर्ड के बारे में पूरी जानकारी नहीं है या आप मदरबोर्ड के बारे में और जानना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए है क्योंकि इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया है कि मदरबोर्ड क्या होता है, मदरबोर्ड कितने प्रकार का होता हैं, मदरबोर्ड के भागों के नाम और कार्यों के बारे में जानकारी प्रदान की गई है।

इसलिए इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें ताकि आपसे कोई महत्वपूर्ण जानकारी छूट न जाए। तो चलिए शुरू करते है और जानते है की मदरबोर्ड क्या है –

मदरबोर्ड क्या है? (Motherboard Kya Hai In Hindi)

मदरबोर्ड कंप्यूटर का बहुत ही महत्वपूर्ण डिवाइस होता है, जिसके द्वारा कंप्यूटर के सभी डिवाइस कंप्यूटर से जुड़े रहते हैं और एक दूसरे से कम्यूनिकेट कर सकते हैं। मदरबोर्ड कंप्यूटर का आधार है। मदरबोर्ड कंप्यूटर के सभी भागों को पावर सप्लाई करता है ताकि वे अपना काम सुचारू रूप से कर सकें।

मदरबोर्ड को कंप्यूटर का हब भी कहा जा सकता है क्योंकि कंप्यूटर से जुड़े सभी डिवाइस मदरबोर्ड से जुड़े रहते हैं। अलग-अलग कंप्यूटर डिवाइस को जोड़ने के लिए मदरबोर्ड में अलग-अलग पोर्ट या स्लॉट बने होते हैं।

मदरबोर्ड एक मजबूत प्लास्टिक का बना होता है जो विद्युत का कुचालक होता है। इस प्लास्टिक की शीट में कॉपर और एल्युमिनियम की पतली परत प्रिंट रहती है।

मदरबोर्ड की परिभाषा क्या है? (Definition Of Motherboard In Hindi)

मदरबोर्ड कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है जिसके माध्यम से कंप्यूटर के सभी इनपुट डिवाइस, आउटपुट डिवाइस और मेमोरी कंप्यूटर से जुड़े रहते हैं और आपस में संचार कर सकते हैं।

मदरबोर्ड का इतिहास क्या है? (History Of Motherboard In Hindi)

आज के समय में जो मदरबोर्ड इस्तेमाल किये जाते हैं वो काफी उन्नत थे लेकिन पहले के समय में जो मदरबोर्ड इस्तेमाल किये जाते थे वो इतने विकसित नहीं थे। ये मदरबोर्ड कुछ खास काम ही कर सकते थे।

पहला मदरबोर्ड प्लानर ब्रेडबोर्ड था, जिसे आईबीएम कंपनी ने 1981 में बनाया था। इसे कंप्यूटर सिस्टम में इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया था। यह मदरबोर्ड इतना एडवांस नहीं था। 1984 में आईबीएम ने नई तकनीक के साथ एडवांस मदरबोर्ड बनाया, यह मदरबोर्ड सभी प्रकार के डेस्कटॉप के लिए उपयुक्त था।

1986 में ताइवान के पेई चांग द्वारा बनाया गया गीगाबाइट मदरबोर्ड अस्तित्व में आया। 1989 में ताइवान में पेगासस नाम की एक कंपनी बनी, जिसे ACER के एप्लिकेशन द्वारा बनाया गया था। बाद में यह दुनिया की सबसे बड़ी मदरबोर्ड निर्माता कंपनी बन गई।

धीरे-धीरे अन्य कंपनियाँ जैसे इंटेल, आसुस टेक भी अस्तित्व में आने लगीं जो मदरबोर्ड मैनुफेक्चर करने लगी। आज के समय में बाजार में क्षमता, बनावट और आकार के आधार पर कई मदरबोर्ड उपलब्ध हैं।

मदरबोर्ड के प्रकार क्या है? (Types Of Motherboard In Hindi)

संरचना और उपयोग के आधार पर मदरबोर्ड निम्न प्रकार के होते हैं –

स्ट्रक्चर के आधार पर मदरबोर्ड के प्रकार

मदरबोर्ड को स्ट्रक्चर के आधार पर दो भागों में बांटा जा सकता है –

  1. Integrated Motherboard
  2. Non-Integrated Motherboard

एकीकृत मदरबोर्ड (Integrated Motherboard)

कंप्यूटर के विभिन्न उपकरणों को जोड़ने के लिए मदरबोर्ड इंटीग्रेटेड में अलग-अलग पार्ट्स होते हैं। इस प्रकार के मदरबोर्ड का प्रयोग डेस्कटॉप, लैपटॉप आदि में किया जाता है।

गैर-एकीकृत मदरबोर्ड (Non-Integrated Motherboard)

नॉन इंटीग्रेटेड मदरबोर्ड में कंप्यूटर के विभिन्न उपकरणों को जोड़ने के लिए अलग-अलग पार्ट्स नहीं होते हैं। इस प्रकार के मदरबोर्ड का इस्तेमाल पुराने डेस्कटॉप, सर्वर आदि में किया जाता था।

उपयोग आधारित मदरबोर्ड के प्रकार

उपयोग के आधार पर मदरबोर्ड को तीन भागों में बांटा जा सकता है –

  • Desktop Motherboard
  • Laptop Motherboard
  • Server Motherboard

डेस्कटॉप मदरबोर्ड (Desktop Motherboard)

डेस्कटॉप मदरबोर्ड आज के समय में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। इस प्रकार का मदरबोर्ड सबसे बुनियादी प्रकार का मदरबोर्ड होता है।

लैपटॉप मदरबोर्ड (Laptop Motherboard)

लैपटॉप में उपयोग होने वाले मदरबोर्ड को लैपटॉप मदरबोर्ड कहा जाता है। इस तरह के मदरबोर्ड की मदद से लैपटॉप के विभन्न हिस्सों को जोड़ा जा सकता है।

सर्वर मदरबोर्ड (Server Motherboard)

इस प्रकार का मदरबोर्ड सर्वर के लिए बनाया जाता है। ये बहुत ही उच्च गुणवत्ता वाले मदरबोर्ड हैं। ये मदरबोर्ड लंबे समय तक चलते हैं। इसमें बहुत से स्लॉट्स और कनेक्टर्स होते हैं।

मदरबोर्ड के भागों के नाम (Part Of Motherboard In Hindi)

मदरबोर्ड के कई भाग होते हैं जिनके माध्यम से कंप्यूटर के विभिन्न उपकरणों को जोड़ा जाता है। जिनके नाम इस प्रकार हैं-

पावर कनेक्टर (Power Connector) – पावर कनेक्टर की सहायता से सीपीयू और अन्य कंप्यूटर घटकों को इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई की जाती है। पावर पहले SMPS और फिर मदरबोर्ड में जाती है।

सीपीयू सॉकेट (CPU Socket) – सीपीयू को कंप्यूटर का दिमाग भी कहा जाता है। सीपीयू को मदरबोर्ड से जोड़ने के लिए एक सॉकेट का उपयोग किया जाता है, इसे सीपीयू सॉकेट कहा जाता है।

पीएस / 2 पोर्ट (PS / 2 Port) – पीएस / 2 पोर्ट का प्रयोग माउस और कीबोर्ड को जोड़ने के लिए किया जाता है।

सॉकेट्स (Sockets) – स्पीकर और माइक्रोफोन को सॉकेट्स के माध्यम से कंप्यूटर से जोड़ा जाता हैं।

पैरेलल पोर्ट (Parallel Port) – इस पोर्ट में स्कैनर और प्रिंटर को जोड़ा जाता हैं, ये 25 पिन वाले प्लॉट होते हैं।

यूएसबी पोर्ट (USB Port) – यूएसबी डिवाइस जैसे की-बोर्ड, माउस, प्रिंटर, हार्ड डिस्क आदि को यूएसबी पोर्ट के जरिए कनेक्ट किया जाता है।

सीरियल पोर्ट (Serial Port) – अतिरिक्त मॉडेम को सीरियल पोर्ट के माध्यम से कंप्यूटर से जोड़ा जाता है। ये पोर्ट 9 और 25 पिन के होते हैं।

वीजीए पोर्ट (VGA Port) इस पोर्ट की मदद से मॉनिटर को कंप्यूटर से कनेक्ट किया जाता है।

एक्सटर्नल पोर्ट (External Port) – एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर से जोड़ने के लिए एक्सटर्नल पोर्ट का उपयोग किया जाता है।

गेम पोर्ट (Game Port) – गेम पोर्ट का उपयोग जॉयस्टिक जैसे गेमिंग उपकरणों को जोड़ने के लिए किया जाता है।

डीवीआई पोर्ट (DVI Port) – डीवीआई पोर्ट का उपयोग फ्लैट पैनल मॉनिटर जैसे एलसीडी, एलईडी आदि को जोड़ने के लिए किया जाता है।

RAM स्लॉट (रेम स्लॉट) – रेम स्लॉट का उपयोग कंप्यूटर में रेम को स्थापित करने के लिए किया जाता है। यह स्लॉट CPU स्लॉट के पास ही होता है।

ये सभी कंप्यूटर मदरबोर्ड के कुछ बुनियादी भाग हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए।

मदरबोर्ड के कार्य क्या है? (Function Of Motherboard In Hindi)

  • मदरबोर्ड कंप्यूटर का वह भाग होता है जिसमें कंप्यूटर के अन्य सभी उपकरण जुड़े रहते हैं।
  • जो भी डिवाइस कंप्यूटर से जुड़े होते हैं, उन्हें मदरबोर्ड पावर सप्लाई करता है।
  • कंप्यूटर से जुड़े डिवाइस को मदरबोर्ड द्वारा ही प्रबंधित किया जाता है।
  • मदरबोर्ड के माध्यम से ही कंप्यूटर का एक डिवाइस दूसरे डिवाइस के साथ संचार कर सकता है।
  • मदरबोर्ड कंप्यूटर को स्टार्ट करने के लिए भी काम होता है, क्योंकि रेम भी मदरबोर्ड में ही रहती है।

मदरबोर्ड निर्माता कंपनियां (Motherboard Manufacturer Companies In Hindi)

बाजार में कई लोकप्रिय कंपनियां हैं जो मदरबोर्ड बनाती हैं जैसे –

  • Intel
  • ASUS
  • Gigabyte
  • ACER
  • AMD
  • ESC

मदरबोर्ड का महत्व (Importance Of Motherboard In Hindi)

कंप्यूटर में मदरबोर्ड का महत्व किसी भी अन्य कंप्यूटर हार्डवेयर से अधिक है। हालाँकि कंप्यूटर के समुचित कार्य के लिए प्रत्येक घटक महत्वपूर्ण है। आइए हम आपको बताते हैं कि मदरबोर्ड की कौन-सी खूबियां इसे कंप्यूटर का सबसे अहम हिस्सा बनाती हैं। जैसा कि हमने आपको बताया मदरबोर्ड एक सर्किट बोर्ड है जिस पर सभी महत्वपूर्ण आंतरिक कंप्यूटर हार्डवेयर जैसे सीपीयू आदि लगे होते हैं।

एक मदरबोर्ड न केवल उन कंपोनेंट्स को बैठने के लिए जगह प्रदान करता है, बल्कि सीपीयू के साथ उनका कम्युनिकेट भी कराता है जिससे वे आपस में डेटा साझा कर पाते। इसके साथ ही मदरबोर्ड में कई स्लॉट होते हैं, जो माउस जैसे डिवाइस को कंप्यूटर से जोड़ने का काम करते हैं। जिससे आप कंप्यूटर को इनपुट देते हैं और आउटपुट प्रदान करते हैं।

मदरबोर्ड इससे जुड़े सभी कंप्यूटर घटकों के लिए आवश्यक पावर सप्लाई का कार्य भी करता है। यानी कंप्यूटर को चालू करने से लेकर उसे ऑपरेट करते तक मदरबोर्ड की उपयोगिता को बिल्कुल भी नकारा नहीं जा सकता है। अगर हम CPU को कंप्यूटर का दिमाग मानते है तो मदरबोर्ड उसका नर्वस सिस्टम है।

मदरबोर्ड का विकास (Development Of Motherboard In Hindi)

  • 1981 में आईबीएम “प्लानर” ब्रेडबोर्ड कंप्यूटर सिस्टम में इस्तेमाल होने वाला पहला मदरबोर्ड था।
  • 1984 में, IBM एडवांस तकनीक लेकर आया। जिसने आज के कंप्यूटर सिस्टम को जन्म दिया। एडवांस तकनीक के कारण यह बहुत लोकप्रिय हुआ और यह एक मानक मदरबोर्ड साबित हुआ जो सभी प्रकार के डेस्कटॉप में फिट हो जाता है।
  • गीगाबाइट का जन्म 1986 में हुआ था, जिसे ताइवान के पेई चेंग ने बनाया था।
  • 1987 में एलीट ग्रुप दुनिया की सबसे बड़ी ईसीएस बोर्ड बनाने वाली मदरबोर्ड कंपनी बन गई।
  • 1989 में, ताइवान में ACER के उपकरण द्वारा PEGASUS नाम की एक छोटी सी कंपनी बनाई गई, जो बाद में दुनिया की सबसे बड़ी मदरबोर्ड निर्माता बन गई।
  • इंटेल ने PAGA को 1993 में विकसित किया था, जिसका पूर्ण रूप प्लास्टिक पिन ग्रिड अरे है। इसने एकीकृत सर्किट पैकेजिंग में योगदान दिया।
  • 1995 में AT के बाद ATX फॉर्म जारी किया गया। एडवांस तकनीक में जो कमियां थीं उनमें सुधार कर इसे लाया गया।
  • इंटेल ने इसी साल से ही मदरबोर्ड बनाना शुरू कर दिया था। इसे अपना बाजार जमाने करने में ज्यादा समय नहीं लगा।
  • माइक्रो ATX बोर्ड 1998 में बनाए गए थे, जो एटीएक्स बोर्ड के आधे आकार के थे।
  • ITX मदरबोर्ड 2001 में बनाये गए थे जो की बहुत छोटा हुआ करते थे।
  • 2005 में, इंटेल ने फिर से बैलेंस टेक्नोलॉजी को एक्सटेंड किया।
  • 2007 में, असुस टेक दुनिया की सबसे बड़ी कंप्यूटर मदरबोर्ड निर्माता कंपनी बन गई।
  • मोबाइल ITX बोर्ड का निर्माण 2009 में किया गया था। ITX सबसे छोटे आकार का मदरबोर्ड था जिसका आकार 60*60 MM था।

FAQs

पहला मदरबोर्ड का नाम क्या है?
पहले मदरबोर्ड का नाम प्लानर था।

कंप्यूटर मदरबोर्ड का कार्य क्या है?
कंप्यूटर मदरबोर्ड के माध्यम से सभी कंप्यूटर उपकरण एक दूसरे से जुड़े होते हैं और मदरबोर्ड कंप्यूटर उपकरणों को सुचारू रूप से काम करने के लिए पावर सप्लाई भी करता है।

मदर बोर्ड का दूसरा नाम क्या है ?
मदर बोर्ड का दूसरा नाम मेन बोर्ड है।

मदर बोर्ड कितने प्रकार के होते हैं?
मदरबोर्ड मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं अपनी बनावट के आधार पर – इंटीग्रेटेड मदरबोर्ड और नॉन इंटीग्रेटेड मदरबोर्ड।

मदरबोर्ड का फुल फॉर्म क्या होता है?
मदरबोर्ड का कोई फुल फॉर्म नहीं होता है, यह मदर और बोर्ड दो शब्दों से मिलकर बना है।

मदरबोर्ड के तीन प्रकार क्या हैं?
उपयोग के आधार पर मदरबोर्ड के तीन प्रकार है – डेस्कटॉप मदरबोर्ड, लैपटॉप मदरबोर्ड, सर्वर मदरबोर्ड।

मदरबोर्ड कहाँ स्थित है?
कंप्यूटर केस के अंदर कंप्यूटर मदरबोर्ड स्थित होता है।

मदर बोर्ड का दूसरा नाम क्या है?
मदर बोर्ड का दूसरा नाम मेन बोर्ड है।

मदरबोर्ड का पहला नाम क्या है?
पहला मदरबोर्ड, जिसे मूल रूप से ” प्लानर ” कहते थे।

यह भी पढ़े –

निष्कर्ष

मदरबोर्ड कंप्यूटर का महत्वपूर्ण भाग होता है जिसकी मदद से हम कंप्यूटर डिवाइस को कंप्यूटर से जोड़ सकते हैं और वे अपना काम सुचारू रूप से कर सकते हैं।

इस लेख को पढ़ने के बाद आपको मदरबोर्ड के बारे में उपयोगी जानकारी मिल गई होगी। उम्मीद है आपको यह लेख मदरबोर्ड क्या है जरुर पसंद आया होगा। इस लेख मदरबोर्ड क्या है को अपने उन दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें जो कंप्यूटर में रुचि रखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles