यूट्यूब क्या है, इसे किसने बनाया – (What Is Youtube In Hindi)

What Is Youtube In Hindi: क्या आप जानते हैं यूट्यूब क्या है? यह एक वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म है। जिस पर आप वीडियो देख सकते हैं और वीडियो अपलोड करके पैसे कमा सकते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसे कब बनाया गया? और किसने बनाया था? यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए ? ये सारे जवाब आपको यहीं मिलने वाले हैं। तो पोस्ट को ध्यान से और पूरा पढ़ें….

यूट्यूब दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन और सबसे बड़ा वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म है, जहां प्रति मिनट 500 से ज्यादा वीडियो शेयर किए जाते हैं।

यूट्यूब गूगल के बाद सबसे अधिक सर्च की जाने वाली वेबसाइट है, इसलिए यूट्यूब की Alexa Rank 2 है। यूट्यूब एक यूएस-आधारित कंपनी है जिसे 2006 में Google गूगल द्वारा खरीद लिया गया था।

यूट्यूब पर आप अपनी इच्छानुसार वीडियो देख सकते हैं। फ्री में ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं और खाली समय में मनोरंजन कर सकते हैं। इसलिए यूट्यूब के उपयोगकर्ताओं की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है।

- Advertisement -

यूट्यूब में दो तरह के लोग होते हैं। एक वीडियो देखने वाले और दूसरा वीडियो बनाने वाले है। वीडियो बनाने वाले को क्रिएटर कहा जाता है। कोई भी व्यक्ति क्रिएटर बन सकता है। अगर आपको भी किसी विषय का अच्छा ज्ञान है तो आप यूट्यूब पर क्रिएटर बनकर पैसे कमा सकते हैं। भारत में कई यूट्यूब क्रिएटर हर महीने लाखों-करोड़ों रुपये कमाते हैं।

यूट्यूब की सफलता के बाद यूट्यूब ने इसमें यूट्यूब शॉर्ट्स फीचर लॉन्च किया है।

यूट्यूब क्या है? (YouTube Kya Hai In Hindi)

यूट्यूब एक वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म है। जिसमें रजिस्टर्ड यूजर्स वीडियो देखने के साथ-साथ अपने स्वयं के वीडियो अपलोड कर सकते हैं। इसे फरवरी 2005 में चाड हर्ले, स्टीव चैन और जावेद करीम द्वारा बनाया गया था। जिसे नवंबर 2006 में गूगल ने 1.65 अरब अमेरिकी डॉलर में खरीदा था।

यूट्यूब अपने यूजर्स को वीडियो अपलोड करने, देखने, साझा करने, पैसे कमाने और अन्य के चैनलों की सदस्यता लेने की अनुमति देता है। इसमें यूजर्स से लेकर कई बड़ी कंपनियों तक के वीडियो मौजूद हैं। इनमें वीडियो क्लिप, टीवी शो, म्यूजिक वीडियो, मूवी ट्रेलर, लाइव स्ट्रीम आदि शामिल हैं। कुछ लोग इसे वीडियो ब्लॉगिंग के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं।

यदि आपने यूट्यूब पर अपना अकाउंट नहीं बनाया है, तो आप केवल वीडियो देख सकते हैं, जबकि जिन्होंने यूट्यूब पर अपना अकाउंट बनाया हुआ है। वे असीमित वीडियो अपलोड कर सकते हैं और वीडियो पर कमेंट भी कर सकते हैं। कुछ वीडियो जिनमें मानहानि, उत्पीड़न, नग्नता, किसी अपराध के लिए उकसाना या जो 18 साल से कम उम्र के लोगों के लिए घातक है, केवल 18+ वर्ष की आयु के यूजर्स ही देख सकते हैं।

यूट्यूब अपना राजस्व गूगल एडसेंस से कमाता है, जो साइट की सामग्री और दर्शकों के आधार पर अपने विज्ञापन दिखाता है। इसमें ज्यादातर वीडियो फ्री में देखे जा सकते हैं, लेकिन कुछ वीडियो देखने के लिए पैसे देने पड़ते हैं। आप भुगतान करके भी यूट्यूब प्रीमियम की भी सदस्यता ले सकते हैं। जिससे आप बिना किसी विज्ञापन के कई वीडियो देख सकते हैं। साथ ही यूट्यूब प्रीमियम पर कुछ ऐसे वीडियो भी हैं, जिन्हें आप केवल यूट्यूब प्रीमियम सदस्यता खरीदकर ही देख सकते हैं। इसके अलावा आप वे वीडियो नहीं देख सकते हैं।

यूट्यूब की शुरुआत

यूट्यूब को फरवरी 2005 में तीन दोस्तों जावेद करीम, चाड हर्ले और स्टीव चेन ने बनाया था। ये तीनों दोस्त पेपाल कंपनी में काम करते थे, लेकिन जब ईबे ने पेपाल खरीदा तो पेपाल के कई कर्मचारियों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा, उन कर्मचारियों में ये तीन दोस्त भी थे।

यूट्यूब बनने की कहानी बहुत ही मजेदार है। दरअसल, इन तीनों दोस्तों ने एक छोटी सी समस्या के समाधान के लिए यूट्यूब जैसा बड़ा वीडियो प्लेटफॉर्म बनाया।

इन तीनों दोस्तों को डिनर पार्टी के कुछ वीडियो एक-दूसरे को भेजने थे, लेकिन वीडियो का साइज बड़ा होने के कारण वीडियो नहीं भेजा जा स। , इस समस्या को हल करने के लिए उन्होंने एक ऐसा माध्यम बनाने के बारे में सोचा। जिसमे बड़ी सी बड़ी साइज़ की विडियो को आसानी से साझा किया जा सके। और यहीं से उनके दिमाग में यूट्यूब का कॉन्सेप्ट आया।

उन्होंने सीधे यूट्यूब से शुरुआत नहीं की। ये तीनों दोस्त सबसे पहले Hot Or Not से प्रेरित हुए, जो एक ऑनलाइन डेटिंग वेबसाइट थी, और Tuneln Hook UP नाम से एक डेटिंग वेबसाइट बनाई जो बहुत सफल नहीं रही।

उसके बाद फरवरी 2005 में इन तीनों दोस्तों ने YouTube.Com नाम से एक डोमेन रजिस्टर किया और यूट्यूब की नींव रखी और शुरुआत में बहुत मेहनत की।

अपनी मेहनत से कुछ ही महीनों में उन्हें यूट्यूब पर पैसे लगाने के लिए बड़े निवेशक मिलने लगे। नवंबर 2006 में, गूगल ने यूट्यूब को खरीद लिया।

2010 में, यूट्यूब ने भी लाइव स्ट्रीमिंग शुरू कर दी। पहली बार यूट्यूब ने साल 2010 में आईपीएल मैचों की लाइव स्ट्रीमिंग दिखाई थी।

यूट्यूब पर पहला वीडियो कब आया?

यूट्यूब पर पहला वीडियो जावेद करीम ने डाला था। जिसका शीर्षक था “मी एट द जू”। यह वीडियो अभी भी यूट्यूब पर सहेजा गया है। जावेद करीम ने इस वीडियो को एक जू यानी चिड़ियाँघर में शूट किया है। आप इस वीडियो को यूट्यूब पर देख सकते हैं।

यूट्यूब की सफलता की कहानी

यूट्यूब बनाने के बाद अब तीनों दोस्तों को उन लोगों की जरूरत थी जो यूट्यूब पर कंटेंट प्रदान कर सकें। धीरे-धीरे उन्हें ऐसे लोग मिलने लगे जो यूट्यूब पर कंटेंट डालते थे। जब यूट्यूब पर कंटेंट अधिक मात्रा में बढ़ने लगा, तो इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या भी बढ़ने लगी।

जब यूट्यूब सफल हो गया, तो तीनों दोस्तों ने मिलकर यूट्यूब के एल्गोरिथम को अपडेट किया और यूट्यूब से कॉपीराइट की गई सामग्री को हटा दिया। जिससे यूट्यूब बेहतर होने लगा। यूट्यूब अब तक लाखों ऐसे चैनल हटा चुका है, जो यूट्यूब गाइड लाइन का पालन नहीं करते हैं।

यूट्यूब विज्ञापनों का कुछ हिस्सा अपने क्रिएटर्स को भी देता है। जो वीडियो बनाते है और अपलोड करते है।

यूट्यूब की सफलता का यही सबसे बड़ा रहस्य है, कि यहां सभी को लाभ होता है। जिससे यूट्यूब पर लोग अच्छी गुणवत्ता वाली सामग्री प्रदान करते हैं। YouTube का उपयोगकर्ता दिन-ब-दिन बढ़ता जाता है।

यूट्यूब का उपयोग कैसे करें?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि यूट्यूब पर आपको दो तरह के लोग मिलते हैं। एक जो वीडियो बनाता है और दूसरा जो वीडियो देखता है। उसके आधार पर आप यूट्यूब का उपयोग कर सकते हैं।

अगर आप बतौर व्यूअर यूट्यूब का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप अपने स्मार्टफोन में यूट्यूब की एप इंस्टॉल कर सकते हैं। आप वेब ब्राउज़र में यूट्यूब की वेबसाइट पर जाकर यूट्यूब तक पहुंच सकते हैं।

यदि आप एस ए क्रिएटर यूट्यूब का उपयोग करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको यूट्यूब पर अपना चैनल बनाना होगा और फिर चैनल पर नियमित रूप से वीडियो अपलोड करना होगा। जब आपके सब्सक्राइबर बढ़ जाते हैं और आपके वीडियो पर व्यूज आने लगते हैं तो आप यूट्यूब से लाखों रुपये कमा सकते हैं।

यूट्यूब पर चैनल कैसे बनाये | यूट्यूब चैनल कैसे बनाये

यूट्यूब पर चैनल बनाना बहुत ही आसान है, अगर आपको यूट्यूब चैनल बनाने में कोई परेशानी आ रही है तो इसके लिए आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले यूट्यूब एप्लीकेशन ओपन करें और जीमेल आईडी से यूट्यूब पर अपना अकाउंट बना लें।
  • अब आपको सबसे ऊपर प्रोफाइल आइकॉन पर क्लिक करना है और योर चैनल ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब अपने चैनल का नाम लिखें और अपने चैनल के बारे में संक्षिप्त विवरण लिखें और क्रिएट चैनल वाले बटन पर क्लिक करें।
  • इस तरह आपका चैनल यूट्यूब पर बन जाएगा उसके बाद आप यूट्यूब के मोनटिज़शन क्राइटेरिया को पूरा करके अपने चैनल को मोनेटाइज करके पैसे कमा सकते हैं।
  • अब आपको सिर्फ यूट्यूब वीडियोस को वायरल करने पर ध्यान देना है।

यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए

यूट्यूब से पैसे कमाने के कई तरीके हैं लेकिन उसके लिए सबसे जरूरी है कि आप यूट्यूब पर अपना चैनल बनाएं , वीडियो अपलोड करे और ज्यादा से ज्यादा लोगों को आकर्षित करें। अगर आप अपने चैनल पर 1000 सब्सक्राइबर और 4000 घंटे का वॉच टाइम पूरा कर लेते हैं, तो आप यूट्यूब से पैसे कमा सकते हैं। आप नीचे दिए गए इन तरीकों से यूट्यूब पैसे कमा सकते हैं।

गूगल एडसेंस – जब आप अपने चैनल पर 1000 सब्सक्राइबर और 4000 घंटे का वॉच टाइम पूरा कर लेते हैं तो आपकी कमाई शुरू हो जाती है। गूगल एडसेंस द्वारा विज्ञापन दिखाए जाते हैं और आपकी कमाई गूगल एडसेंस से होती है।

एफिलिएट मार्केटिंग – अगर आपका यूट्यूब पर चैनल है और आपको अच्छे व्यूज मिल रहे हैं तो आप एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमा सकते हैं, उसके लिए आप अमेज़न, फ्लिपकार्ट या किसी अन्य लोकप्रिय वेबसाइट पर एफिलिएट अकाउंट बनाकर पैसे कमा सकते है।

स्पॉन्सरशिप – धीरे-धीरे जब आपका यूट्यूब चैनल पॉपुलर होने लगता है तो आपकी कमाई स्पॉन्सरशिप से भी होने लगती है।

यूट्यूब किस देश की कंपनी है?

यूट्यूब एक अमेरिकी कंपनी है। इसकी स्थापना 14 फरवरी 2005 को हुई थी। इसके अलावा YouTube का मुख्यालय सैन ब्रूनो, कैलिफोर्निया में है। साल 2020 में यूट्यूब का रेवेन्यू 19.8 अरब डॉलर था। यूट्यूब प्रीमियम, यूट्यूब म्यूजिक, यूट्यूब टीवी और यूट्यूब किड्स भी यूट्यूब के उत्पाद हैं।

यूट्यूब के सीईओ कौन हैं?

यूट्यूब की सीईओ सुसान वोज्स्की हैं। जिन्होंने 5 फरवरी 2014 को यूट्यूब CEO के रूप में पदभार संभाला और तब से आज तक उन्होंने इसे लोकप्रिय बनाने में बहुत योगदान दिया है।

यूट्यूब का मुख्य मुख्यालय कहाँ स्थित है?

यूट्यूब का मुख्य मुख्यालय सैन ब्रूनो, कैलिफ़ोर्निया में स्थित है।

पहला यूट्यूबर कौन था?

दुनिया के पहले यूट्यूबर, यूट्यूब के संस्थापक जावेद करीम थे। वह यूट्यूब पर वीडियो पोस्ट करने वाले पहले व्यक्ति थे।

यूट्यूब भारत में सबसे पहले कब आया था?

यूट्यूब को भारत में 7 मई 2008 को गूगल द्वारा लॉन्च किया गया था।

यूट्यूब क्या काम करता है?

यूट्यूब एक वीडियो शेयरिंग और वीडियो बनाने वाला एप्लिकेशन है, यानी एक ऐसा प्लेटफॉर्म जहां आप मुफ्त में वीडियो देख सकते हैं और अपने खुद के सूचनात्मक वीडियो प्रकाशित कर सकते हैं।

यूट्यूब पर आप जो भी वीडियो देखते हैं, वह किसी न किसी कंटेंट क्रिएटर द्वारा पोस्ट किया जाता है और एक क्रिएटर इन वीडियो को अपने यूट्यूब चैनल पर प्रकाशित करता है ताकि इसे सार्वजनिक रूप से देखा जा सके।

यूट्यूब को शुरुआत में 2005 में एक स्वतंत्र वेबसाइट के रूप में शुरू किया गया था, लेकिन बाद में 2006 में गूगल द्वारा अधिग्रहित कर लिया गया और यूट्यूब पर प्रकाशित होने वाले किसी भी वीडियो को अन्य वेबसाइटों पर भी पोस्ट और साझा किया जा सकता है। लेकिन इसे केवल यूट्यूब द्वारा ही होस्ट किया जाता है।

यूट्यूब पर अपलोड किए गए सभी वीडियो दुनिया के किसी न किसी व्यक्ति द्वारा बनाए जाते हैं जिन्हें Youtuber के नाम से जाना जाता है। जिसके कारण आप यूट्यूब पर हर भाषा में सभी प्रकार के वीडियो देख सकते हैं। कॉमेडी, स्पोर्ट्स, कल्चर, हॉरर, इवेंट्स, हाउ टू, स्टेप बाय स्टेप, इंडस्ट्रियल, टेक्निकल, मार्केटिंग और कई अन्य कैटेगरी के वीडियो आसानी से देखे जा सकते हैं।

यूट्यूब विशेष रूप से ऐसे लोगों के लिए बनाया गया है जिनके पास किसी भी विषय का ज्ञान या कौशल है या उन्हें किसी भी विषय का पूरा ज्ञान है और जो लोगों की रुचि से संबंधित वीडियो बनाकर यूट्यूब पर प्रकाशित कर सकते हैं।

निष्कर्ष

उम्मीद है की आपको यह जानकारी (Youtube Kya Hai In Hindi | What Is Youtube In Hindi) पसंद आयी होगी। अगर आपको यह लेख (Youtube Kya Hai In Hindi | What Is Youtube In Hindi) मददगार लगा है तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें । और अगर आपका इस आर्टिकल Youtube Kya Hai In Hindi | What Is Youtube In Hindi) से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेख के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles

You cannot copy content of this page