1000 विजिटर्स पर गूगल एडसेंस से कितनी होती है कमाई

Google Adsense Earnings Per 1000 Visitors | Adsense Pay Per View: गूगल एडसेंस से 1000 विसिटोर्स पर कितनी इनकम होती है? जैसा कि आप सभी जानते हैं कि ब्लॉग्गिंग का मकसद ब्लॉगर बनकर पैसा कमाना होता है। और आज के समय में बहुत से लोग इससे अच्छा पैसा भी कमा रहे हैं पर जो लोग ब्लॉगिंग की दुनिया में नए हैं या जिन्होंने ब्लॉगिंग शुरू कर दी है। उनके मन में पैसे को लेकर कई सवाल और भ्रम आते हैं कि हम ब्लॉग से कितना पैसा कमा सकते हैं। यानी 1000 विजिटर आने पर गूगल एडसेंस हमें कितना पैसा देता है।

दोस्तों यह तो सभी जानते हैं कि गूगल एडसेंस से पैसे कमाने के लिए आपको अपने ब्लॉग पर विज्ञापन लगाना होता है। उससे पहले आपको ब्लॉग पर एडसेंस अप्रूवल लेना होता है। इस पोस्ट में हम गूगल एडसेंस से अर्निंग के बारे में बात करेंगे। अगर आपकी साइट पर गूगल एडसेंस के विज्ञापन है तो आपको पता ही होगा कि 1000 पेज व्यूज पर कितना पैसा मिलता।

गूगल एडसेंस से 1000 विजिटर्स पर कितनी होती है अर्निंग

हम अपने ब्लॉग पर एडसेंस विज्ञापन लगाते हैं और जब कोई विजिटर हमारी वेबसाइट पर आता है, एड्स पर क्लिक करता है, तो उससे हमारी कमाई होती हैं।

एडसेंस से जो अर्निंग होती है वो विजिटर के आने से नहीं होती है। बल्कि, ब्लॉग पर उन विज्ञापन पर कितनी बार क्लिक किया गया है। और हमें कितना CPC (कॉस्ट पर क्लिक) मिला है यह उन विज्ञापनपर निर्भर करता है। तो आइये इसके बारे में अच्छे से समझते हैं व कैलकुलेट करते हैं।

CPC (Cost Per Click) मतलब एक विज्ञापन क्लिक पर कितनी इनकम होती है। और CTR (Click Through Rate) प्रतिशत में बताया जाता है कि आपके विज्ञापनों पर कितने लोग क्लिक कर रहे हैं। उदाहरण के लिए, यदि 100 लोगों में से 5 लोगों ने विज्ञापनों पर क्लिक किया, तो आपका CTR लगभग 5% होगा।

CPC किसके अनुसार मिलता है?

जब कोई एड्स पर क्लिक करता है तो उसका कमीशन कई बातों पर निर्भर करता है जैसे की –

  • Blog Topic
  • Visitor Location
  • Language
  • Ad Type

इसके अलावा और भी बहुत सी चीजें जिससे आपका सीपीसी कम या ज्यादा हो सकता है।

Blog Topic

यह मुख्य बिंदु है कि आपका ब्लॉग किस विषय पर है। विषय के अनुसार ब्लॉग पर एड्स चलता है और उसी के अनुसार आपको सीपीसी मिलता है। कुछ अच्छे सीपीसी टॉपिक –

  • Education
  • Health Care
  • Insurance
  • Online Money Making Tips
  • Technology
  • Web Design
  • Domain & Hosting
  • Blogging Tutorial
  • Business

Visitor Location

हमारे ब्लॉग पर आने वाले विजिटर कहाँ से आते हैं। हर कंट्री का सीपीसी अलग-अलग रेट का होता है। अगर इंडिया, पाकिस्तान, बांग्लादेश, देश से लोग आपके ब्लॉग पर आते हैं तो आपको CPC कम मिलेगी। यदि इन तीन देशों के अतिरिक्त अन्य देशों से विजिटर आते हैं तो आपका सीपीसी ज्यादा होगा।

Ad Type

कमाई इस बात पर निर्भर करती है कि आपके ब्लॉग पर किस प्रकार का एड्स चल रहा है। हमारे ब्लॉग पोस्ट से संबंधित 2 प्रकार के विज्ञापन प्रदर्शित होते हैं। पहला हमारे ब्लॉग पोस्ट से रिलेटेड एड्स डिस्प्ले और दूसरा जो हमारे ब्लॉग पर आया है वो कहाँ से आया है। मेरे कहने का मतलब है कि जो विजिटर हमारी साइट पर आया है वो अवश्य किसी वेबसाइट पर गया होगा, सबसे पहले उस वेबसाइट के एड्स इस साइट पर आ सकते हैं।

हो सकता है वो विजिटर किसी ऐसी साइट पर गया होगा जहां अच्छी सीपीसी अच्छी हो, उसके हिसाब से हमारी इनकम कम – ज्यादा हो सकती है। तो अब आप समझ ही गए होंगे कि एक क्लिक से हमें जो पैसा मिलता है वह कैसे मिलता है और वह किस तरह दिया जाता है।

गूगल एडसेंस 1000 पेज व्यू पर कितने पैसे देता है?

गूगल एडसेंस 1000 पेज व्यू पर कितना पैसा देता है, इससे पहले CPC या CTR को समझना होगा। सीपीसी की बात की जाए तो यह फिक्स नहीं है और CPC कई चीजों पर डिपेंड करता है, पर औसतन हम यह मान लेते हैं कि हमें करीब 0.10 $ मिल रहे हैं, कोई फिक्स CPC नहीं बता रहे है, यह ज्यादा भी हो सकता है।

मान लीजिए CTR 10% है, मेरा मतलब है कि 100 में से 5 लोगों ने विज्ञापनों पर क्लिक किया है और 1000 में से 50 लोगों ने विज्ञापनों पर क्लिक किया होगा।

तो अब CTR (Click Through Rate) क्या है और औसत CPC (cost per click) क्या है, इसे गुणा करके कितनी अर्निंग अर्जित की जा सकती है।

CPC* CTR = Income

$0.10 * 50 क्लिक = 5$ कमाई

मेरा कहना है कि अगर आपके ब्लॉग पर 1000 विज़िटर्स आते हैं, 50 लोग विज्ञापन पर क्लिक करते हैं और आपकी CPC $0.10 है तो आपकी कमाई $5 हो सकती है। यह आपके CPC पर निर्भर करता है। शायद आपका CPC अधिक हो। मैंने आपको उदाहरण के तौर पर बताया है।

अब आप पूरी तरह से समझ चुके होंगे कि सिर्फ विज़िटर्स के आने से ही कमाई नहीं हो जाती बल्कि ब्लॉगपर विज्ञापन पर क्लिक आने से आपको पैसे मिलते हैं। अगर आप एडसेंस से अच्छी इनकम करना चाहते हैं तो अपने ब्लॉग पर हाई सीपीसी कंटेंट शेयर करें।

उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पूरी तरह से समझ में आ चुकी होगी कि गूगल एडसेंस 1000 पेज व्यू पर कितने पैसा देता है। इसके अलावा आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट में पूछ सकते है ।

गूगल एडसेंस को डिसेबल्ड होने से कैसे बचाये

दुसरो का कंटेंट कॉपी न करे

बहुत से लोग नया ब्लॉग हैं या यूट्यूब चैनल शुरू करते है। इसलिए दूसरों को देखकर वे उनके कंटेंट को कॉपी करने लगते हैं। यह गूगल एडसेंस की नीति के खिलाफ है। और जब गूगल एडसेंस को पता चलता है कि आपने किसी और की सामग्री चुराई है, तो यह आपके गूगल एडसेंस खाते को निष्क्रिय कर देता है और आपकी वेबसाइट को पैनलाइज भी कर सकता है।

इसलिए बेहतर होगा कि आप दूसरों के कंटेंट को कॉपी न करें और अपना खुद का कंटेंट बनाएं। जो तुरंत गूगल में रैंक भी करेगा और आपको काफी ट्रैफिक भी मिलेगा और गूगल ऐडसेंस के डिसेबल होने का खतरा भी कम हो जाएगा।

स्वयं के विज्ञापनों पर क्लिक न करे

बहुत से लोग नए हैं जो पहली बार गूगल एडसेंस का उपयोग कर रहे हैं। जिन्हे वेबसाइट बनाने के बाद अप्रूवल मिल जाता है। लेकिन पैसा कमाने की जल्दी रहती है। इस वजह से वे अपने विज्ञापनों पर क्लिक करने लगते हैं। दरअसल यह गूगल की पॉलिसी के खिलाफ है, आप अपने विज्ञापन पर क्लिक नहीं कर सकते। इससे आपका CTR बढ़ता है और गूगल एडसेंस को डिसेबल भी कर सकता है।

गलत विज्ञापन

गूगल एडसेंस को ठीक से चलाने के लिए और डिसएबल होने से बचने के लिए आपको विज्ञापन की नियुक्ति भी बहुत अच्छी तरह से करनी होगी। आप अपनी इच्छा के अनुसार गूगल एडसेंस की नियुक्ति नहीं कर सकते हैं। इसके लिए गूगल एडसेंस ने कुछ नियम बनाए हैं, जिनका आपको ध्यान से पालन करना होगा।

कभी भी “यहां क्लिक करें” या “डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें” शीर्षक के तहत विज्ञापन न लगाएं क्योंकि ऐसा करने से आपका सीटीआर बढ़ सकता है और इसके कारण आपका गूगल एडसेंस अक्षम हो सकता है।

अनेक ऐडसेंस खाते बनाना

कई बार देखा गया है कि कई गूगल एडसेंस खाते बनाने के कारण गूगल एडसेंस आपके सभी एडसेंस खातों को ब्लॉक कर देता है। और उन्हें स्थायी रूप से हटा भी सकता हैं। इसलिए मेरा सुझाव सिर्फ एक ही है, जब तक जरूरत न हो एक से ज्यादा एडसेंस अकाउंट न बनाएं। यदि आपके पास एक से अधिक ऐडसेंस खाते हैं तो उन्हें एक डिवाइस में कभी भी लॉगिन न करें।

अवैध कंटेंट न डाले

आप अपनी वेबसाइट या यूट्यूब चैनल पर अवैध सामग्री नहीं डाल सकते। अगर आपको नहीं पता कि अवैध सामग्री क्या है तो नीचे पढ़ें।

आप अपनी वेबसाइट पर अभद्र भाषा न दें या जान की धमकी नहीं दे सकते। आप उनकी सहमति के बिना अपनी वेबसाइट पर कॉपीराइट सामग्री जैसे फिल्म, गाने, कॉपीराइट की गई छवियां नहीं डाल सकते हैं। इन चीजों की वजह से भी आपका एडसेंस अकाउंट बंद हो सकता है।

स्पैम स्कोर बढ़ने क कारण

कहीं न कहीं ऐसा देखा गया है कि जब बहुत से लोग ब्लॉग बनाते हैं तो वह तुरंत स्पैमी बैकलिंक्स बनाने लगते हैं। इससे आपकी वेबसाइट की अथॉरिटी तो बढ़ जाती है, लेकिन आपका स्पैम स्कोर भी बढ़ जाता है। इससे आपका एडसेंस अकाउंट आपके बहुत ज्यादा स्पैम स्कोर के कारण बंद भी हो सकता है।

कीवर्ड स्टफिंग करने के कारण

कीवर्ड स्टफिंग यह गूगल के नियमों के खिलाफ है, आप बहुत ज्यादा कीवर्ड स्टफिंग नहीं कर सकते। कीवर्ड स्टफिंग क्या है? जिसमें आप अपने कंटेंट में एक ही कीवर्ड का बार-बार इस्तेमाल करते हैं तो उसे कीवर्ड स्टफिंग कहते हैं, इसलिए अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो तुरंत रुक जाएं।

निष्कर्ष

उम्मीद है की आपको यह जानकारी (Google Adsense Earnings Per 1000 Visitors) पसंद आयी होगी। अगर आपको यह लेख (Google Adsense Earnings Per 1000 Visitors) मददगार लगा है तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें । और अगर आपका इस आर्टिकल (Google Adsense Earnings Per 1000 Visitors) से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेख के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles