हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने और कब किया था, किसे कहा जाता फादर ऑफ़ हेलीकॉप्टर

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया | Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya Tha: आज के इस लेख में जानने वाले कि हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया। हेलीकॉप्टर एक ऐसा साधन है, जिसकी सहायता से आप विश्व के किसी भी कोने में जा सकते हैं, चाहे बड़े – बड़े पहाड़ हों या समुद्र, आप इसकी मदद से कहीं भी घूम सकते हैं। आज के समय में हेलिकॉप्टर से यात्रा करना बहुत ही आम बात हो गई है। आज हेलीकॉप्टर में सफर करना ज्यादा महंगा नहीं है। ऐसे में आम लोग भी काफी आसानी से सफर कर सकते हैं। घरेलू क्षेत्र में हेलीकाप्टर का बहुत बड़ा योगदान है। आज बड़े नेता, अभिनेता और अमीर लोग हेलीकॉप्टर में यात्रा करना पसंद करते हैं। उनमें से कुछ के पास अपना प्राइवेट हेलीकॉप्टर भी है।

कुछ साल पहले आसमान में उड़ना सिर्फ एक कल्पना थी, लेकिन आज तकनीक के विकास से आसमान में उड़ना संभव हो गया है। आपको बता दें कि लंबे समय से रक्षा के क्षेत्र में हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल किया जाता रहा है। हेलीकॉप्टर की मदद उन जगहों पर ली जाती है जहां हवाई जहाज नहीं पहुंच सकते। आपने भी कभी न कभी हेलीकॉप्टर से यात्रा की होगी, आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि इतना बड़ा हेलीकॉप्टर आसमान में कैसे उड़ता है और हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया?

यह भी पढ़ें – इंटरनेट का आविष्कार किसने और कब किया, क्या है इसका इतिहास

यह भी पढ़ें – गूगल का आविष्कार कब और कैसे हुआ था, किसे कहा जाता है गूगल का पिता

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया | Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya Tha

Included

  • हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया
  • वर्तमान हेलीकॉप्टर का आविष्कार कब किया गया था
  • हेलीकाप्टरों के प्रकार
  • दुनिया में 5 सर्वश्रेष्ठ सैन्य लड़ाकू हेलीकॉप्टर
  • हेलीकाप्टरों के बारे में रोचक तथ्य

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया?

आपको बता दें कि हेलीकॉप्टर का आविष्कार इगोर सिकोर्स्की (Igor Sikorsky) ने 14 सितंबर 1939 को किया था। यह दुनिया का पहला सिंगल रोटर प्रायोगिक हेलीकॉप्टर था जिसे अमेरिका के स्ट्रैटफ़ोर्ड सिटी में उड़ान भरकर दिखाया गया था। हालांकि वीएस 300 नाम के इस हेलीकॉप्टर ने कुछ ही मिनटों के लिए उड़ान भरी। उसके बाद इगोर सिकोर्स्की ने अपने हेलीकॉप्टरों में कई सुधार किए और 13 मई 1940 को कई सार्वजनिक उड़ानें पूरी कीं।

इगोर सिकोर्स्की एक अमेरिकी रशियन इंजीनियर और विमान विशेषज्ञ थे। माना जाता है कि इगोर सिकोर्स्की ने वर्ष 1910 से हेलीकॉप्टरों पर काम करना शुरू किया था। जिसमें उन्हें 1940 तक आते -आते कामयाबी मिली। इसके बाद हेलीकॉप्टर निर्माण उनके वीएस 300 हेलीकॉप्टर के आधार पर शुरू किया गया था। सिकोर्स्की आर-4 दुनिया का पहला ऐसा हेलीकॉप्टर था जिसे बड़े पैमाने पर बनाया गया था।

इसके बाद इगोर सिकोर्स्की ने इसे अमेरिकी वायु सेना को सौंप दिया, द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान अमेरिकी वायु सेना ने इसका इस्तेमाल किया। इसके साथ ही सिकोर्स्की की कंपनी ने अमेरिकी सेना के लिए बड़ी संख्या में विभिन्न प्रकार के हेलीकॉप्टर बनाए थे। इन हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल अमेरिकी सेना ने द्वितीय विश्व युद्ध में खोज और बचाव और राहत टीमों को भेजने के लिए किया था।

वर्तमान हेलीकॉप्टर का आविष्कार कब किया गया था

1958 में, सिकोर्स्की की कंपनी ने दुनिया का पहला पानी की सतह से उड़ने वाला और पानी में लैंड करने वाला हेलीकॉप्टर बनाया था। सिकोर्स्की के अलावा, कई लोगों ने हेलीकॉप्टर को आधुनिक बनाने की कोशिश की। 1944 में अमेरिकी इंजीनियर स्टेनली हिलर ने धातु का इस्तेमाल करते हुए हेलीकॉप्टर के रोटर के ब्लेड को सख्त कर दिया। इस बदलाव के बाद हेलीकॉप्टर पहले से कहीं ज्यादा तेजी से उड़ने लगे। वर्ष 1949 में, स्टेनली हिलर ने अपने स्वयं के निर्मित हेलीकॉप्टर हिलर 360 के साथ पूरे अमेरिका का चक्कर लगाया था।

आपको बता दें कि हेलिकॉप्टर बनाने की कोशिश न केवल अमेरिकी इंजीनियर ने की थी। बल्कि सिकोर्स्की से पहले फ्रांस के दो भाइयों जैक्स और लुई ब्रेगुएट ने साल 1907 में गायरोप्लेन नंबर 1 नाम का हेलिकॉप्टर बनाया था। इस मशीन ने 2 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरी थी। लगभग 1 मिनट के लिए, पर यह संतुलित नहीं था। इसी साल पॉल कोर्नु नामक आविष्कारक ने भी ऐसा हेलीकॉप्टर बनाया था। जिसने तक़रीबन 20 सेकंड तक उड़ान भरी थी।

हेलीकाप्टरों के प्रकार

कई तरह के हेलिकॉप्टर आज के समय में मौजूद हैं और सभी का उपयोग अलग-अलग कामों के लिए किया जाता है। मुख्य तीन प्रकार के हेलीकाप्टरों के बारे में आप नीचे देख सकते हैं –

1.अटैक हेलीकाप्टर

2. रेस्क्यू हेलीकाप्टर

3. ट्रांसपोर्ट हेलीकाप्टर

अटैक हेलीकाप्टर

इस हेलीकॉप्टर का मुख्य काम दुश्मनों के हमलों का मुंहतोड़ जवाब देना है। इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से देश की सुरक्षा के लिए किया जाता है। इस प्रकार के हेलीकॉप्टर में मशीनगन, मिसाइल और रॉकेट लोड करके रखे जाते हैं। इस प्रकार के हेलीकॉप्टर में रडार तकनीक भी मौजूद होती है। जो दुश्मन की सही लोकेशन का पता लगाने में मदद करती है।

रेस्क्यू हेलीकाप्टर

इस प्रकार के हेलीकॉप्टर का उपयोग मुख्य रूप से प्राकृतिक आपदा के समय किया जाता है। यह हेलीकॉप्टर हर मौसम और हर तूफान से लड़ सकता है, इसलिए इसे बहुत मजबूत बनाया गया है।

ट्रांसपोर्ट हेलीकाप्टर

इस प्रकार के हेलीकॉप्टर का उपयोग मुख्य रूप से सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए किया जाता है।

तो अब आप जान ही गए होंगे कि हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया था हेलीकॉप्टर का आविष्कार सिकोर्स्की सिकोरस्की ने 14 सितंबर 1939 को किया था। इगोर सिकोर्स्की एक अमेरिकी रूसी इंजीनियर और विमान विशेषज्ञ थे। ऐसा माना जाता है कि वर्ष 1910 से इगोर सिकोर्स्की ने हेलीकॉप्टरों पर काम करना शुरू किया था। जिसमें उन्हें 1940 के आते – आते सफलता मिली थी।

दुनिया में 5 सर्वश्रेष्ठ सैन्य लड़ाकू हेलीकॉप्टर

वर्तमान समय में युद्ध के मैदान में दुश्मन पर हमला करने के लिए आधुनिक हेलीकॉप्टरों का महत्व बहुत बढ़ गया है। लड़ाकू हेलीकॉप्टर अपने साथ विभिन्न प्रकार के हथियार और मिसाइल ले जाते हैं और जरूरत पड़ने पर दुश्मन को बहुत तेजी से नुकसान पहुंचाते हैं।

दुनिया के 5 बेहतरीन अटैक हेलीकॉप्टरों की सूची

Ka-52 “Alligator”

रूस द्वारा बनाया गया यह Ka-52 “Alligator” हेलीकॉप्टर बहुत अधिक ऊंचाई व गति पर भी अच्छी तरह से संचालित किया जा सकता है। इसमें दो पायलट बैठ सकते हैं। एलीगेटर की एंटी-शीप मिसाइलों में यूएस अपाचे हेलीकॉप्टर की एंटी-शीप मिसाइलों की तुलना में अधिक मारक क्षमता होती है और अपाचे के समान आर्मर से लैस और हवा से हवा में मार करने की क्षमता होती हैं।

AH-64 Apache

H-64 Apache अमेरिका के सबसे घातक हेलीकॉप्टरों में से एक है। बहुत सारे हथियारों से लैस हैं। जिसमें हेलफायर मिसाइल, 70 मिमी रॉकेट और 30 मिमी स्वचालित तोप शामिल है। यह उन्नत रडार और लक्ष्यीकरण प्रणाली से भी लैस है।

Mi-28N “Havoc”

रात में भी उड़ान भरने में सक्षम, यह रूसी हेलीकॉप्टर अपने साथ टैंक रोधी मिसाइलें ले जाता है। जो टैंकों के एक मीटर मोटे कवच को भेद सकती हैं। यह कई 80 मिमी के अनियंत्रित रॉकेट, पांच 122 मिमी रॉकेट ग्रेनेड लांचर, 12.7 मिमी और 7.62 मिमी मशीनगन और बम के गोले से लैस है। Mi-28N “हैवोक” का अगला भाग भी 30 मिमी की छोटी तोप से सुसज्जित है।

Eurocopter Tiger

यूरोकॉप्टर टाइगर उड़ते समय अपने पीछे राडार, ध्वनि और इन्फ्रारेड किरणों के बहुत कम निशान छोड़ता है। जो इसे दुश्मन की नजर से दूर रखता है। यह एक 30mm मशीन गन, 70mm रॉकेट, हवा से हवा में मार करने की क्षमता और कई तरह की एंटी टैंक मिसाइलों से लैस है और एक काउंटरमेजर सिस्टम से भी लैस है। ; जो इसे युद्ध के मैदान में और अधिक सुरक्षित बनाता है।

Z-10

Z-10 का इस्तेमाल चीनी सेना करती है। यह लगभग 20,000 फीट की ऊंचाई तक उड़ सकता है और एंटी-टैंक मिसाइलों, TY-90 हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल और 30mm की छोटी तोप से हमला कर सकता है। आमतौर पर चीनी रक्षा उद्योग की सबसे बड़ी उपलब्धि माने जाने वाले इस हेलीकॉप्टर को वास्तव में रूसी हेलीकॉप्टर निर्माता कामोव ने बनाया था। कामोव कंपनी ने इस लिस्ट में पहला हेलीकॉप्टर Ka-52 “एलीगेटर” भी बनाया है।

हेलीकाप्टरों के बारे में रोचक तथ्य

हेलीकॉप्टर अन्य विमानों की तुलना में अधिक फुर्तीले होते हैं, जिन्हें किसी भी दिशा में बहुत तेजी से घुमाया जा सकता है।

हेलीकॉप्टर की लिफ्ट और थ्रस्ट स्पिनिंग उनके रोटर्स द्वारा प्रदान की जाती है। एक हेलीकॉप्टर के रोटर्स में आमतौर पर दो ब्लेड होते हैं। किसी हेलीकॉप्टर के रोटर्स में दो से अधिक ब्लेड भी होते हैं।

हेलीकॉप्टर में मुख्य रोटर्स के अलावा छोटे रोटर्स भी होते हैं। हेलिकॉप्टर कि पुंछ में छोटा रोटर्स लगा होता हैं। जिनका काम हेलिकॉप्टर को विपरीत दिशा में जाने से रोकना होता है।

हेलीकॉप्टर की सबसे तेज रफ्तार 400 किमी प्रति घंटे के आसपास दर्ज की गई है।

बिना लैंडिंग के एक हेलीकॉप्टर ने अधिकतम 3562 किमी उड़ान भरी है।

यदि किसी कारण से हेलीकॉप्टर का इंजन बंद हो जाता है, तो उसकी रोटर मशीन हेलीकॉप्टर को बहुत धीमी गति से जमीन पर लाती है।

ऐसा माना जाता है कि पूरी दुनिया में 45000 से ज्यादा सैन्य हेलीकॉप्टर हैं।

दुनिया का सबसे बड़ा हेलीकॉप्टर Mi-26 है, जिसमें पायलट के अलावा पांच लोग बैठ सकते हैं।

हेलीकॉप्टर शब्द का इस्तेमाल सबसे पहले फ्रांसीसी आविष्कारक गुस्ताव डी पोंटन डी’एमेकोर्ट ने किया था। उन्होंने अपने एक रोटरक्राफ्ट के लिए हेलीकॉप्टर शब्द का इस्तेमाल किया, जो भाप से चलता था। हेलीकॉप्टर शब्द का अंग्रेजी में अनुवाद ‘स्पाइरल कॉप्टर’ के रूप में किया जाता है।

हेलीकॉप्टर को समुद्र और महासागरों के ऊपर भी उड़ाया जा सकता है। अगर इसमें अतिरिक्त ईंधन उपलब्ध है तो। आमतौर पर समुद्र में उड़ने वाले सैन्य हेलीकॉप्टर, उनकी लैंडिंग के लिए समुद्र में एयरकाफ्ट मौजूद होते हैं। जहां से हेलीकॉप्टर में ईंधन भरा जाता है।

प्रश्नोत्तरी

किसे कहा जाता फादर ऑफ़ हेलीकाप्टर?

इगोर सिकोर्स्की को फादर ऑफ़ हेलीकाप्टर कहा जाता है।

हेलीकॉप्टर की खोज किसने की?

हेलीकॉप्टर का आविष्कार इगोर सिकोर्स्की ने 14 सितंबर 1939 को किया था।

आज के हेलीकॉप्टर को अच्छा बनाने का श्रेय किसे जाता है?

संशोधित या उन्नत हेलीकॉप्टर बनाने का श्रेय इगोर सिकोर्स्की को जाता है।

आज हम कितने प्रकार के हेलीकाप्टरों का उपयोग कर रहे हैं?

आज हम तीन प्रकार के हेलीकाप्टरों का उपयोग कर रहे हैं – अटैक हेलीकाप्टर, रेस्क्यू हेलीकाप्टर और ट्रांसपोर्ट हेलीकाप्टर।

पहले हेलीकॉप्टर का क्या नाम था?

पहले हेलीकॉप्टर का नाम VS 300 था।

अमेरिका के पहले लड़ाकू विमान का नाम क्या था?

अमेरिका के पहले अटैक हेलीकॉप्टर का नाम XR 4 था।

निष्कर्ष

उम्मीद है की आपको यह जानकारी (हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया | Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya Tha) पसंद आयी होगी। अगर आपको यह लेख (हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया | Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya Tha) मददगार लगा है तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें । और अगर आपका इस आर्टिकल (हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया | Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya Tha) से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेख के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles