https://www.fapjunk.com https://fapmeister.com

खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए, और खून गाढ़ा होने पर क्या खाना चाहिए?

खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए – खून का बहुत पतला या गाढ़ा होना दोनों ही स्थिति में खतरनाक है। शरीर में रक्त का प्रवाह स्वस्थ तरीके से होना चाहिए, इसलिए यह ज्यादा गाढ़ा या पतला नहीं होना चाहिए। क्योंकि जब खून गाढ़ा होने लगता है तो दिल की बीमारियां हो सकती हैं और दिल का दौरा पड़ने का खतरा भी बढ़ जाता है।

यदि रक्त बहुत गाढ़ा हो जाता है, तो इससे रक्त में थक्का जमने का खतरा बढ़ जाता है। रक्त में जमा हुआ थक्का मस्तिष्क, फेफड़ों और हृदय में रक्त के प्रवाह को बाधित कर सकता है। ऐसे में रोगियों को इससे बचने के लिए खून पतला करने वाली दवाएं दी जाती हैं। लेकिन अगर अपनी दिनचर्या को सही कर लें और अपने खान-पान में कुछ बदलाव कर लें तो खून को पतला भी कर सकते हैं।

आज के इस लेख में हम आपको खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए, और खून गाढ़ा होने पर क्या खाना चाहिए के बारे में जानकारी देने वाले है। तो आइये जानते है –

खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए (Khoon Gadha Hone Par Kya Nahi Khana Chahiye)

- Advertisement -

हार्ट अटैक और अन्य बीमारियों से बचने के लिए आप दवाइयों के साथ-साथ कुछ खाद्य पदार्थों को भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। ये आपके रक्त विकारों को दूर करते हैं। साथ ही खून भी पतला रहता है।

(1) चिकना मांस न खायें

अगर आपका खून गाढ़ा है तो आपको ज्यादा चिकना मांस का सेवन नहीं करना चाहिए। इसमें उच्च मात्रा में वसा होती है जो खून को गाढ़ा कर थक्का बना देती है। मांस में कार्निटाइन पाया जाता है जो हानिकारक होता है। इससे दिल का दौरा और मस्तिष्क क्षति हो सकती है। आपको बीफ रिबे, लाल मांस और चिकन का सेवन नहीं करना है।

(2) तला भोजन न करें

ज्यादातर लोग तले हुए खाद्य पदार्थों का सेवन अधिक करते हैं, ऐसे भोजन से आपका खून अधिक गाढ़ा हो जाता है। क्योंकि तले हुए भोजन में तेल की मात्रा बहुत अधिक होती है जो सूजन को बढ़ाता है। तले हुए भोजन में अनसैचुरेटेड और ट्रांस फैट होता है। इसकी मात्रा अधिक होती है जो हृदय को नुकसान पहुंचाती है और खून को गाढ़ा कर देती है।

(3) डेयरी उत्पादों का सेवन न करें

खून गाढ़ा होने पर आपको डेयरी उत्पादों से दूरी बनाकर रखनी होगी क्योंकि डेयरी उत्पाद भी स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं माने जाते हैं क्योंकि डेयरी उत्पादों में बहुत अधिक मात्रा में वसा होती है जो हृदय संबंधी समस्याओं और मधुमेह का कारण बनती है। इसलिए आपको डेयरी उत्पादों का सेवन नहीं करना चाहिए।

(4) कैफीन युक्त पदार्थों का सेवन न करें

कैफीन हमारे शरीर को नुकसान पहुंचाता है और आज के समय में कैफीन के अधिक आदी हो गए हैं। कैफीन युक्त खाद्य पदार्थ खून में थक्का जमने को बढ़ाते हैं। खून गाढ़ा हो जाता है और कैफीन के अधिक सेवन से पेट संबंधी समस्याएं, थकान, डिहाइड्रेशन, हृदय संबंधी समस्याएं होने लगती हैं।

(5) फास्ट फूड न खाएं

खून गाढ़ा होने की स्थिति में आपको फास्ट फूड से दूर रहना होगा क्योंकि इनके सेवन से खून और गाढ़ा हो सकता है। फास्ट फूड में अधिक चीनी और नमक होता है और अधिक चीनी और नमक का सेवन करने से खून गाढ़ा हो जाता है। इसके साथ ही यह धमनियों में प्लाक पैदा करता है जो रक्त पंप करते समय हृदय पर दबाव डालता है, इसलिए फास्ट फूड से बचें।

(6) शराब का सेवन न करें

आजकल अधिकतर लोग धूम्रपान और शराब का सेवन कर रहे हैं। कुछ लोग रोजाना शराब का सेवन करते हैं। इससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है। अगर आपका खून गाढ़ा है और आप शराब का सेवन करते हैं तो शराब पीने से समस्या बढ़ जाती है। रक्त में वसा की मात्रा बढ़ जाती है, लोग थके हुए दिखाई देते हैं, जिससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ जाता है।

खून गाढ़ा होने पर क्या खाना चाहिए (Khoon Gadha Hone Par Kya Khana Chahiye)

(1) हल्दी

हल्दी औषधीय गुणों से भरपूर है। हल्दी के ये औषधीय गुण हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में बहुत मदद करते हैं। एक शोध के अनुसार, हल्दी में कुरकुमिन नामक पदार्थ पाया जाता है जो प्लेटलेट्स पर काम करके रक्त का थक्का बनने से रोकता है। इसलिए हल्दी के सेवन से रक्त के थक्के बनने की संभावना कम हो जाती है।

(2) मछली और मछली का तेल

मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड ईपीए और डीएचए होता है जिसमें खून को पतला करने का गुण होता है। ईपीए और डीएचए रक्त को पतला करने में मदद करते हैं। मछली के तेल का सेवन कैप्सूल के रूप में किया जा सकता है। इसलिए मछली का तेल भी खून को पतला करने में अहम भूमिका निभाता है।

(3) लाल मिर्च

लाल मिर्च के कई फायदों में से एक यह है कि यह खून को पतला करने में मदद करती है। लाल मिर्च में रक्त को पतला करने के लिए उच्च मात्रा में सैलिसिलेट होता है। लाल मिर्च का सेवन भोजन में भी किया जा सकता है। यह खून को पतला करने के साथ-साथ रक्तचाप को सामान्य रखकर रक्त संचार को नियंत्रित करता है।

(4) अदरक

अदरक में सैलिसिलेट भी होता है जो कई पौधों में पाया जाता है। एसिटाइल सैलिसिलिक एसिड सैलिसिलेट से निर्मित होता है जिसे एस्पिरिन भी कहा जाता है। इससे स्ट्रोक को रोकने में मदद मिलती है। एवोकैडो, बेरी, चेरी जैसे कुछ खाद्य पदार्थों में सैलिसिलेट होते हैं जो रक्त को पतला करने में मदद करते हैं। अदरक में सूजन को कम करने और मांसपेशियों को आराम देने के भी गुण होते हैं। इसलिए आप खून को पतला करने के लिए भी अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं।

(5) लहसुन

लहसुन के औषधीय गुणों से तो आप परिचित होंगे ही। लहसुन में कई एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर में मुक्त कणों को नष्ट करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही लहसुन रक्तचाप को सामान्य रखकर खून को पतला करने में मदद करता है, जिससे रक्त प्रवाह बेहतर होता है। इसलिए अगर आप खून को पतला करना चाहते हैं तो लहसुन का सेवन कर सकते हैं।

गाढ़े खून से होने वाली समस्याओं से बचने के लिए खून को पतला और सामान्य करना बहुत जरूरी है। खून को पतला करने के लिए रोजाना व्यायाम करें और जितना हो सके उतना पानी पिएं, दालचीनी और अंगूर का सेवन करने से भी गाढ़े खून को पतला किया जा सकता है, इसके अलावा समय-समय पर डॉक्टर से जांच कराते रहें।

निष्कर्ष (Conclusion)

आज के इस लेख में हमने आपको खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए, और खून गाढ़ा होने पर क्या खाना चाहिए के बारे में जानकारी दी है। हमे उम्मीद है आपको यह लेख अच्छा लगा होगा। अगर आपको यह लेख खून गाढ़ा होने पर क्या नहीं खाना चाहिए, और खून गाढ़ा होने पर क्या खाना चाहिए अच्छा लगा है तो इसे अपनों के साथ भी शेयर करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles

You cannot copy content of this page