क्लाउड क्या है? (What Is Cloud In Hindi)

What Is Cloud In Hindi: आपने लोगों को क्लाउड, क्लाउड कंप्यूटिंग या क्लाउड स्टोरेज जैसे शब्दों का इस्तेमाल करते सुना होगा। लेकिन वास्तव में क्लाउड क्या है?

सीधे शब्दों में कहें, तो क्लाउड इंटरनेट है—अधिक विशेष रूप से, वह सब कुछ जिसे आप इंटरनेट पर दूरस्थ रूप से एक्सेस कर सकते हैं। जब कुछ क्लाउड में होता है, तो इसका मतलब है कि यह आपके कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव के बजाय इंटरनेट सर्वर पर संग्रहीत है।

क्लाउड क्या है? (Cloud Kya Hai)

क्लाउड उन सॉफ़्टवेयर और सर्विसेज को संदर्भित करता है जो इंटरनेट पर चलते हैं और अधिकांश क्लाउड सर्विसेज को गूगल क्रोम या फ़ायरफ़ॉक्स जैसे वेब ब्राउज़र पर एक्सेस किया जा सकता है और कुछ कंपनियां मोबाइल एप्लिकेशन भी पेश करती हैं। जैसे गूगल ड्राइव, नेटफ्लिक्स, याहू, मेल, ड्रॉपबॉक्स सभी क्लाउड सर्विसेस हैं। और इसका लाभ यह है कि आप इंटरनेट पर कनेक्शन के माध्यम से किसी भी डिवाइस पर अपनी जानकारी कभी भी एक्सेस कर सकते हैं।

हालांकि रिसोर्से होने के बावजूद आपकी जानकारी के गलत हाथों में जाने का खतरा है, लेकिन अगर आप इस सेवा का स्मार्ट तरीके से उपयोग करते हैं तो आप इसके सभी लाभ उठा सकते हैं। लेकिन आपको हमेशा याद रखना होगा कि तकनीक हमारी मदद के लिए है उस पर पूरी तरीके से निर्भर होना हमें परेशानी में डाल सकता है। इसलिए इसका इस्तेमाल सावधानी से करें।

क्लाउड का उपयोग क्यों करें?

क्लाउड का उपयोग करने के कुछ मुख्य कारण सुविधा और विश्वसनीयता हैं। उदाहरण के लिए, यदि आपने कभी वेब-आधारित ईमेल सेवा का उपयोग किया है, जैसे कि जीमेल या याहू! मेल तो आप पहले ही क्लाउड का उपयोग कर चुके हैं। वेब -आधारित सेवा के सभी ई-मेल आपके कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव के बजाय सर्वर पर संग्रहीत होते हैं। इसका मतलब है कि आप अपने ईमेल को इंटरनेट कनेक्शन वाले किसी भी कंप्यूटर से एक्सेस कर सकते हैं। इसका मतलब यह भी है कि अगर आपके कंप्यूटर को कुछ हो जाए तो आप अपने ईमेल को रिकवर कर पाएंगे।

आइए क्लाउड का उपयोग करने के कुछ सबसे सामान्य कारणों को देखें।

फ़ाइल स्टोरेज – आप फ़ाइलों और ईमेल सहित सभी प्रकार की जानकारी को क्लाउड में संग्रहीत कर सकते हैं। इसका मतलब है कि आप इन चीजों को किसी भी कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस से इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक्सेस कर सकते हैं, न कि केवल अपने घर के कंप्यूटर से। ड्रॉपबॉक्स और गूगल ड्राइव कुछ सबसे लोकप्रिय क्लाउड-आधारित स्टोरेज सेवाएं हैं।

फ़ाइल शेयरिंग – क्लाउड एक ही समय में एकाधिक लोगों के साथ फ़ाइलें साझा करना आसान बनाता है। उदाहरण के लिए, आप फ़्लिकर या आईक्लाउड फ़ोटो जैसी क्लाउड-आधारित फ़ोटो सेवा पर एकाधिक फ़ोटो अपलोड कर सकते हैं, फिर उन्हें तुरंत मित्रों और परिवार के साथ साझा कर सकते हैं।

डेटा का बैकअप लेना – आप अपनी फ़ाइलों की सुरक्षा के लिए क्लाउड का उपयोग कर सकते हैं। कार्बोनाइट जैसे ऐप हैं जो स्वचालित रूप से आपके डेटा को क्लाउड पर बैकअप देते हैं। इस तरह, यदि आपका कंप्यूटर कभी भी स्वरूपित, चोरी या क्षतिग्रस्त हो जाता है, तब भी आप इन फ़ाइलों को क्लाउड से पुनर्प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है? (Cloud Computing Kya Hai)

क्लाउड कंप्यूटिंग इंटरनेट यानी क्लाउड पर प्रदान की जाने वाली कंप्यूटर सर्विसेस की डिलीवरी है। जिसमें सर्वर, डेटाबेस, नेटवर्किंग सॉफ्टवेयर, एनालिटिक्स, इंटेलिजेंस क्लाउड कंप्यूटिंग शामिल है। इंटरनेट पर आईटी संसाधनों की ऑन-डिमांड डिलीवरी है जिसे आप अपनी जरूरत के अनुसार ले सकते हैं।

इसमें फिजिकल डेटा सेण्टर और सर्वर को खरीदने और मेंटेन रखने की कोई आवश्यकता नहीं है। बल्कि कंप्यूटिंग पावर स्टोरेज और डेटाबेस जैसे टेक्नोलॉजी सर्विसेस पर एक्सेस किया जा सकता है जिसे क्लाउड प्रोवाइडर से लिया जा सकता है।

सभी प्रकार के संगठन डेटा बैकअप, डिजास्टर डिस्कवरी, ईमेल, वर्चुअल डेस्कटॉप, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट एंड टेस्टिंग, बिग डेटा एनालिटिक्स और कस्टमर फेसिंग वेब एप्लिकेशन पर क्लाउड कंप्यूटिंग का उपयोग करते हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़े –  क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है? इसके प्रकार, लाभ, नुकसान, और विशेषताएँ

क्लाउड स्टोरेज क्या है? (Cloud Storage Kya Hai)

क्लाउड स्टोरेज का मतलब है कि आपका सारा डेटा ऑनलाइन एक सर्वर में सुरक्षित रखा जाएगा जिसे आप जब चाहें और जहां चाहें उपयोग कर सकते हैं। ।

क्लाउड स्टोरेज एक ऐसा सिस्टम है जो इंटरनेट पर डेटा को स्टोर करता है। चाहे गूगल ड्राइव, ड्रॉपबॉक्स या आईक्लाउड हो, क्लाउड स्टोरेज का मतलब डेटा को सर्वर पर स्टोर करना।

इसमें आप अपना सारा डेटा ऑनलाइन किसी भी सर्वर पर सेव कर सकते हैं और एक बार जब आपका डेटा क्लाउड में स्टोर हो जाता है, तो आप जब चाहें इंटरनेट पर कहीं से भी कभी भी और किसी भी डिवाइस पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

गूगल ड्राइव, ड्रॉप बॉक्स, आईक्लाउड, वन ड्राइव पर्सनल स्टोरेज, सोशल मीडिया पर डेटा सर्वर, वेबसाइट होस्टिंग, वर्चुअल डेस्कटॉप होस्टिंग, एप्लीकेशन होस्टिंग भी क्लाउड स्टोरेज ही है।

व्यवसायी इसका इस्तेमाल दस्तावेजों को स्टोर करने और दूसरों के साथ साझा करने के लिए करते हैं। निजी इस्तेमाल के लिए आप मीडिया फाइलों और ईमेल को स्टोर कर सकते हैं और खास बात यह है कि यह डेटा स्टोरेज के लिए असीमित जगह देता है। इसकी कास्ट भी कम है और यह स्टोरेज मीडियम स्टोरेज से ज्यादा सुरक्षित भी है।

इसलिए फिजिकल स्टोरेज सिस्टम को बहुत तेजी से बदल रहा है। इसका सबसे बड़ा लाभ यह माना जा सकता है कि यह कंपनी के डेटा को सुरक्षित रखता है और ऑनलाइन डेटा गायब होने या अचानक आग लगने जैसी स्थितियों में भी मौजूद रखता है।

क्योंकि डेटा वर्चुअल सर्वर पर स्टोर होता है न कि कर्मचारी के डिवाइस पर और यह क्लाउड स्टोरेज एक्सेस, सहयोग, सुरक्षा, बैकअप और डिजास्टर रिकवरी और अगिलिटी में सुधार करता है।

क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ (Benefits Of Cloud Computing)

  • सभी फाइलों का ऑनलाइन और ऑफलाइन बैकअप रहता है।
  • फाइलों को कहीं भी खोलकर काम किया जा सकता है।
  • फ़ाइलें एक साथ कई स्थानों पर साझा की जा सकती हैं।
  • कंप्यूटर खराब होने की स्थिति में किसी भी नए कंप्यूटर में फाइलों का आसानी से बैकअप लिया जा सकता है।
  • फाइलों को मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप, टैबलेट में एक साथ एक्सेस किया जा सकता है।
  • आप इस सुविधा का मुफ्त में लाभ उठा सकते हैं।
  • कोई अतिरिक्त हार्डवेयर स्थापित करने की आवश्यकता नहीं है।
  • इसका उपयोग करना बहुत आसान है।
  • फाइलों को ऑनलाइन भी संपादित किया जा सकता है।
  • सबसे बड़ा फायदा यह है कि किसी भी साइज की फाइल को ऑनलाइन शेयर किया जा सकता है। फाइल साइज की कोई सीमा नहीं है। यहां 5 जीबी से 25 जीबी तक डेटा ऑनलाइन स्टोर किया जा सकता है।

क्लाउड कंप्यूटिंग का उपयोग कैसे करें?

क्लाउड कंप्यूटिंग का उपयोग करने के लिए, आपको संबंधित क्लाउड स्टोरेज सेवा प्रदान करने वाली वेबसाइट पर केवल एक खाता बनाना होगा और आप कुछ ही मिनटों में क्लाउड स्टोरेज सेवा का लाभ उठा सकते हैं। क्लाउड स्टोरेज सेवा प्रदान करने वाली वेबसाइटों के नाम –

  • गूगल ड्राइव
  • माइक्रोसॉफ्ट स्काई ड्राइव
  • यांडेक्स.डिस्क क्लाउड्सर्विस
  • 4सिंक
  • ड्रॉप बॉक्स

क्लाउड स्टोरेज और क्लाउड कंप्यूटिंग के बीच अंतर

क्लाउड कंप्यूटिंग और क्लाउड स्टोरेज दोनों ही दूसरे कंपनी के कंट्रोल कंप्यूटर सिस्टम पर होते हैं। दोनों के एक्सेस के लिए एक निश्चित मासिक शुल्क होता है। उनके एक्सेस के लिए इंटरनेट कनेक्शन होना भी जरूरी है, वे इसे बाहरी नुकसान से सुरक्षित रखते हैं जैसे कि नेचुरल डिजास्टर और हार्डवेयर फैलियर के साथ, क्लाउड कंप्यूटिंग और क्लाउड स्टोरेज दोनों में, आपको सर्वर हार्डवेयर सॉफ़्टवेयर को अपडेट करने, सॉफ़्टवेयर पैच लगाने और बग्स को ठीक करने जैसे रखरखाव कार्यों के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है।

क्लाउड सिस्टम की इन दोनों सर्विस में आपको स्थिरता मिलती है, यानी अगर आपको बिजनेस ग्रोथ के हिसाब से ज्यादा सीटें, ज्यादा प्रोसेसिंग पावर, ज्यादा स्टोरेज की जरूरत है तो आप अपने प्लान को बढ़ाकर इसे अपग्रेड कर सकते हैं।

क्लाउड कंप्यूटिंग को क्लाउड स्टोरेज की तुलना में हायर प्रोसेसिंग पावर की आवश्यकता होती है, जबकि क्लाउड स्टोरेज को अधिक स्पेस की आवश्यकता होती है।

क्लाउड कंप्यूटिंग व्यवसाय को लक्षित करता है जबकि क्लाउड स्टोरेज का उपयोग पेशेवर और पर्सनल रीजन के लिए किया जाता है।

वेब ऐप क्या है? (Web App Kya Hai)

वेब एप्लिकेशन—या वेब ऐप्स— भी क्लाउड में चलते हैं और जिन्हें कंप्यूटर पर इंस्टॉल करने की आवश्यकता नहीं होती है। इंटरनेट पर सबसे लोकप्रिय साइटों में से कई वास्तव में वेब ऐप्स हैं। हो सकता है कि आपने वेब ऐप को बिना जाने इसका इस्तेमाल किया हो। आइए कुछ लोकप्रिय वेब ऐप्स पर एक नज़र डालें।

फेसबुक – फेसबुक आपको एक ऑनलाइन प्रोफाइल बनाने और अपने दोस्तों के साथ बातचीत करने की सुविधा देता है। प्रोफ़ाइल और बातचीत को किसी भी समय अपडेट किया जा सकता है, इसलिए फेसबुक जानकारी को अद्यतित रखने के लिए वेब ऐप तकनीकों का उपयोग करता है।

पिक्सलर – पिक्सलर एक इमेज एडिटिंग एप्लिकेशन है जो आपके वेब ब्राउजर में चलता है। एडोब फोटोशॉप की तरह, इसमें कई उन्नत सुविधाएँ शामिल हैं, जैसे कि रंग सुधार और शार्पनिंग टूल।

गूगल डॉक्स – गूगल डॉक्स एक ऑफिस सूट है जो आपके ब्राउज़र में चलता है। माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की तरह, आप इसका उपयोग दस्तावेज़, स्प्रैडशीट, प्रस्तुतीकरण आदि बनाने के लिए कर सकते हैं। और चूंकि फ़ाइलें क्लाउड में संग्रहीत हैं, इसलिए उन्हें दूसरों के साथ साझा करना आसान है।

निष्कर्ष

उम्मीद है की आपको यह जानकारी (What Is Cloud In Hindi) पसंद आयी होगी। अगर आपको यह लेख (What Is Cloud In Hindi) मददगार लगा है तो आप इस लेख (What Is Cloud In Hindi) को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। और अगर आपका इस लेख (What Is Cloud In Hindi) से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेख के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles