WhatsApp किस देश का है | WhatsApp किस देश की कंपनी है

WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai: अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ने आए हैं तो आपके मोबाइल में व्हाट्सएप जरूर होगा। आज अगर हम पूरी दुनिया में सोशल मीडिया ऐप की बात करें तो फेसबुक के बाद दूसरे नंबर पर व्हाट्सएप का नाम होगा जो ज्यादातर लोगों के फोन में मिलेगा। तो जाहिर सी बात है कि कभी न कभी आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि WhatsApp किस देश का है, व्हाट्सएप किस देश की कंपनी है (Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai), व्हाट्सएप का मालिक कौन है और इसकी शुरुआत कब हुई। आज इस लेख में व्हाट्सएप के बारे में बहुत सारी जानकारी लेकर आए है। तो चलिए शुरू करते है –

वर्तमान में, व्हाट्सएप का उपयोग 182 देशों के लोग करते हैं और जब डाउनलोड की बात आती है, तो 5 बिलियन लोगों ने अपने मोबाइल फोन या लैपटॉप में व्हाट्सएप डाउनलोड किया है, जो कि फेसबुक के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मैसेजिंग ऐप है। जिसे लोग अपने रिश्तेदारों और दोस्तों से बात करने के लिए इस्तेमाल करते है। तो आज हम इस आर्टिकल में व्हाट्सएप के कुछ बेहतरीन फीचर्स और ट्रिक्स के बारे में जानेंगे कि Whatsapp किस देश का है तो आप इस आर्टिकल के अंत तक बने रहें।

WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai

Included

  • व्हाट्सएप क्या है?
  • WhatsApp किस देश का है
  • व्हाट्सएप का मालिक कौन है?
  • व्हाट्सएप किसने बनाया?
  • व्हाट्सएप भारत में कब आया?
  • व्हाट्सएप की रोचक कहानी
  • व्हाट्सएप क्यों है इतना खास?
  • व्हाट्सएप कैसे काम करता है?
  • फेसबुक ने व्हाट्सएप को क्यों खरीदा?
  • व्हाट्सएप का आविष्कार क्यों किया गया था?
  • व्हाट्सएप के फीचर
  • व्हाट्सएप से जुड़े रोचक तथ्य
  • प्रश्नोत्तरी

WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai

व्हाट्सएप क्या है?

व्हाट्सएप एक बहुत ही लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप है, जिसके माध्यम से आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से ऑनलाइन बात कर सकते हैं। इसके अलावा व्हाट्सएप समय-समय पर अपडेट देता रहता है ताकि वह अपने यूजर्स को नए-नए फीचर उपलब्ध कराता रहे। सबसे बड़ी बात यह है कि आप इस व्हाट्सएप को फ्री में इस्तेमाल कर सकते हैं।

व्हाट्सएप एक इंस्टेंट मैसेजिंग और रिसीविंग मोबाइल ऐप है। जिसे 2019 में फेसबुक द्वारा खरीद लिया किया गया था। इसमें मोबाइल से टेक्स्ट मैसेज के साथ-साथ लोग अपनी आवाज में रिकॉर्डिंग, फोटो और जीपीएस की मदद से अपना लोकेशन (पता) भी भेज सकते हैं। इसके अलावा आप व्हाट्सएप से ऑडियो और वीडियो कॉल भी कर सकते हैं। एक और अपडेट में आप ग्रुप कॉल करके 8 लोगों से ग्रुप वीडियो कॉल में बात कर सकते हैं। जिसमें आपके इंटरनेट डेटा का इस्तेमाल किया जाएगा।

मोबाइल के साथ-साथ आप इसे लैपटॉप या कंप्यूटर में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए जरूरी नहीं कि आपको इसके लिए ज्यादा शिक्षित होना पड़े। इसके अलावा, इसलिए यह इतना लोकप्रिय हो गया। क्योकि हाल ही में व्हाट्सएप का एक और नया अपडेट आया है। जिसमें व्हाट्सएप पेमेंट का एक नया फीचर लॉन्च किया गया है। जिसे कोई भी यूजर अपने वाट्सएप से किसी को भी पैसे ट्रांसफर कर सकता है।

WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai

व्हाट्सएप अमेरिका देश की कंपनी है। व्हाट्सएप की स्थापना 12 साल पहले जनवरी 2009 में हुई थी। इस ऐप को बनाने का श्रेय अमेरिका के जॉन कौम और ब्रायन एक्टन को जाता है। लेकिन फरवरी 2014 में फेसबुक के मालिक ने व्हाट्सएप को 19 अरब अमेरिकी डॉलर में खरीद लिया, जिसे भारतीय रुपये में गिना जाए तो इसकी कीमत करीब 1.5 लाख करोड़ रुपये है। जो फेसबुक का अब तक का सबसे बड़ा अधिग्रहण था। व्हाट्सएप का मुख्यालय माउंटेन व्यू, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका में है।

2015 तक, व्हाट्सएप दुनिया का सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप बन गया और फरवरी 2020 तक, दुनिया भर में इसके 2 बिलियन से अधिक ग्राहक हो गए। और वर्तमान में प्ले स्टोर पर व्हाट्सएप के 5 बिलियन डाउनलोड दिखाई दे रहे हैं। तो अब आपको पता चल ही गया होगा कि आखिर व्हाट्सएप किस देश की कंपनी है।

व्हाट्सएप का मालिक कौन है?

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि व्हाट्सएप के संस्थापक जान कौम और ब्रायन एक्शन थे। जिन्होंने साल 2009 में व्हाट्सएप की शुरुआत की थी, लेकिन इसकी जबरदस्त लोकप्रियता को देखते हुए फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने इसे साल 2014 में खरीद लिया था। वर्तमान में, व्हाट्सएप के मालिक मार्क जुकरबर्ग हैं जो फेसबुक के मालिक भी हैं। व्हाट्सएप की लोकप्रियता का मुख्य कारण यह है कि इसका उपयोग करना बहुत आसान है। तो अब आप जान ही गए होंगे कि व्हाट्सएप का मालिक कौन है।

व्हाट्सएप किसने बनाया?

भले ही व्हाट्सएप का स्वामित्व वर्तमान में मार्क जुकरबर्ग के पास है, जो दुनिया के दो सबसे बड़े सोशल मीडिया ऐप के मालिक हैं, लेकिन जब व्हाट्सएप के निर्माता की बात आती है, तो जान कौम और ब्रायन एक्शन का नाम भी बहुत सम्मान के साथ लिया जाता है और इन दो महान हस्तियों ने मिलकर व्हाट्सएप बनाया।

व्हाट्सएप भारत में कब आया?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि व्हाट्सएप सबसे पहले भारत में साल 2011 में आया था और आते ही इतना लोकप्रिय हो गया था कि कुछ ही दिनों में बहुत अधिक उपयोगकर्ता ऐप में शामिल हो गए और आज व्हाट्सएप के पास भारत से पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा यूजर्स हैं।

व्हाट्सएप की रोचक कहानी

व्हाट्सएप के आविष्कार और इसे बनाने के तरीके के बारे में बहुत सारी रोचक जानकारी है। जिसे आप शायद नहीं जानते होंगे कि व्हाट्सएप का अविष्कार कैसे हुआ और व्हाट्सएप को किसने, कब और कैसे बनाया?

ब्रायन एक्टन, जो व्हाट्सएप एप्लिकेशन के सह-संस्थापक हैं। व्हाट्सएप, जिसका उपयोग आज सभी स्मार्टफोन में किया जाता है। इसका आविष्कार 2009 में ब्रायन एक्टन और उनके दोस्त जान कौम ने कैलिफोर्निया, यूएसए में किया था।

ये दोनों दोस्त पहले याहू में कार्यरत थे। याहू एक सर्च इंजन है। लेकिन सितंबर 2007 में दोनों याहू सर्च इंजन की नौकरी छोड़कर साउथ अमेरिका चले गए।

2009 में फेसबुक में नौकरी के लिए आवेदन किया। उनका फेसबुक कंपनी में काम करने का उनका सपना था लेकिन फेसबुक में नौकरी नहीं मिली, उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया, फिर भी ब्रायन एक्टन ने हार नहीं मानी।

फिर उन्होंने ट्विटर पर नौकरी के लिए आवेदन किया, दुर्भाग्य से वंहा भी उन्हें नौकरी मिली। ट्विटर ने भी ब्रायन एक्टन को रिजेक्ट कर दिया।

फिर ब्रायन एक्टन और उनके दोस्तों ने नए जोश और नई उम्मीद के साथ एक नई शुरुआत की। उन्होंने खुद और अपने दोस्तों के साथ, रात-दिन, अपने उच्च जोश और इरादों के साथ, Iphone के लिए एक मैसेजिंग ऐप बनाया।

जिसका नाम उन्होंने व्हाट्सएप रखा। इसका नाम व्हाट्सएप इसलिए रखा क्योंकि सुनने में यह “What’s Up” जैसा लगता है। जिसका इस्तेमाल पूरी दुनिया में लोग एक-दूसरे का हाल पूछने के लिए करते हैं।

इसके साथ ही व्हाट्सएप कॉल और मैसेज की जबरदस्त सुविधा की मदद से वीडियो कॉलिंग, वॉयस कॉलिंग, मैसेज, फाइल, वीडियो, फोटो की सुविधा मुहैया कराता है।

24 फरवरी 2009 को उन्होंने अमेरिका में स्थित कैलिफोर्निया में Whatsapp.INC नाम से एक कंपनी शुरू की। लेकिन शुरुआती वर्जन में Whatsapp बहुत अच्छा नहीं था, जब भी ज्यादा लोग इसका इस्तेमाल करने लगते थे तो बार-बार क्रैश हो जाता था या फिर हैंग हो जाता था।

इसलिए जॉन कौम को लगा कि यह एप्लिकेशन नहीं चल पाएगा, लेकिन इसके बावजूद यह ऐप चलता रहा, समय बीतने के साथ इसमें नए अपडेट के माध्यम से नए फीचर्स जारी किए गए।

जून 2009 में आईफोन के लिए पुश नोटिफिकेशन का फीचर आया। इस फीचर के साथ यूजर को व्हाट्सएप में नोटिफिकेशन तब मिलता था जब उसके किसी दोस्त या रिश्तेदार ने अपना स्टेटस बदल दिया हो और इस वजह से अचानक से व्हाट्सएप के 250,000 यूजर्स हो गए।

यह देख दोनों दोस्त बहुत खुश हुए और अपने 5 दोस्तों को व्हाट्सएप कंपनी में पैसा लगाने के लिए राजी करने लगे। इन 5 दोस्तों ने अक्टूबर 2009 को सीड फंडिंग में 250,000 डॉलर का निवेश करने का फैसला किया और निवेश किया।

इसके बाद उन्होंने दूसरे प्लेटफॉर्म के लिए व्हाट्सएप बनाने और दूसरे प्लेटफॉर्म के लिए व्हाट्सएप वर्जन बनाने के बारे में सोचा, जान कौम ने अपने कुछ दोस्तों को बताया और उन्हें काम पर रखा।

शुरुआती समय में व्हाट्सएप बिल्कुल मुफ्त था, व्हाट्सएप के उपयोगकर्ताओं में तेजी से वृद्धि के कारण व्हाट्सएप को दिसंबर 2009 में पेड कर दिया गया और व्हाट्सएप का उपयोग करने वाले उपयोगकर्ता से पैसे लेने लगे। लेकिन बाद में यह सभी के लिए फिर से फ्री कर दिया गया।

सिकोइया कैपिटल एकमात्र उद्यम निवेशक था। जिसने अप्रैल 2011 में कंपनी को लगभग 8 मिलियन डॉलर दिए।

समय के साथ, फरवरी 2013 में, व्हाट्सएप एप्लिकेशन के 200 मिलियन सक्रिय उपयोगकर्ता बन गए। साथ ही इसमें 50 सदस्य ही काम करते थे। इसके बाद सिकोइया ने एक बार फिर 50 मिलियन डॉलर का निवेश किया।

व्हाट्सएप ने ही अपने ब्लॉग में बताया कि दिसंबर 2013 में उनके पास 400 मिलियन एक्टिव यूजर्स थे। यह आंकड़ा तेजी से बढ़ा तो 22 अप्रैल 2014 को यह आंकड़ा बढ़कर 500 मिलियन हो गया।

शायद व्हाट्सएप और उसके बढ़ते यूजर्स की बढ़ती संख्या को देखते हुए फेसबुक, जिसने कुछ साल पहले ब्रायन एक्टन को हायर नहीं किया था, उसी फेसबुक ने 19 फरवरी 2014 को उनके द्वारा बनाई गई व्हाट्सएप एप्लीकेशन को 19 बिलियन डॉलर में खरीदा लिया।

यह राशि भारतीय रुपये में लगभग 128278500000000 से अधिक है। इसमें से फेसबुक ने 4 बिलियन डॉलर नकद और 12 बिलियन डॉलर फेसबुक को व्हाट्सएप के लिए शेयर दिए गए।

शेष 3 बिलियन डॉलर प्रतिबंधित स्टॉक के रूप में रखे गए थे। इसके बाद व्हाट्सएप को सभी के लिए पूरी तरह से फ्री कर दिया गया, साथ ही व्हाट्सएप को सभी ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए बनाया गया।

ब्रायन एक्टन उस कंपनी के शेयरधारक बन गए हैं जिसमें वह एक छोटी सी नौकरी मांगने गए थे।

व्हाट्सएप क्यों है इतना खास?

यहां आप अपने निजी पलों को भी साझा कर सकते हैं। जिसकी वजह यह है कि इसमें एंड टू एंड एनक्रिप्शन फीचर का इस्तेमाल किया गया है। इसका मतलब है कि आप जिस व्यक्ति से बात कर रहे हैं उसके अलावा कोई और नहीं देख सकता है।

2014 में फेसबुक ने इसे करीब 19.3 अरब अमेरिकी डॉलर में खरीदा था। 2015 में, यह दुनिया का सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग एप्लिकेशन बन गया। जनवरी 2018 को, व्हाट्सएप ने छोटे व्यवसाय के लिए एक ऐप लॉन्च किया ताकि कंपनी अपने ग्राहकों के साथ संवाद कर सके।

व्हाट्सएप कैसे काम करता है?

व्हाट्सएप की शुरुआत एसएमएस के विकल्प के रूप में हुई थी। अब इस ऐप का उपयोग विभिन्न प्रकार के मीडिया जैसे टेक्स्ट, फोटो, वीडियो, वॉयस कॉल, दस्तावेज़ आदि के आदान-प्रदान में किया जाता है। व्हाट्सएप का एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन इस पर भेजे गए संदेशों को निजी और सुरक्षित रखता है। इसका मतलब है कि कोई तीसरा व्यक्ति, यहां तक ​​कि व्हाट्सएप भी आपके द्वारा भेजे गए संदेशों को देख या सुन नहीं सकता है।

व्हाट्सएप में यूजर्स अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट अपलोड करते हैं और देखते हैं कि उन कॉन्टैक्ट्स में व्हाट्सएप का इस्तेमाल कौन करता है। इसके बाद आप उन लोगों को बिना किसी चार्ज के मैसेज कर सकते हैं। व्हाट्सएप लगभग सभी मोबाइल मॉडल जैसे आईफोन, एंड्रॉइड, ब्लैकबेरी, विंडोज फोन, नोकिया फोन आदि के लिए उपलब्ध है। अब यह डेस्कटॉप के लिए भी उपलब्ध है। WhatsApp ने 2015 में Voice Calling और 2016 में Video Calling की शुरुआत की थी।

फेसबुक ने व्हाट्सएप को क्यों खरीदा?

व्हाट्सएप दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला मैसेजिंग ऐप है। इसके 1.5 बिलियन यूजर्स और उनका यूजर डेटा किसी को भी इसे खरीदने के लिए प्रेरित कर सकता है। हालांकि, मार्क जुकरबर्ग के अनुसार, वे इंटरनेट सेवाओं का एक ऐसा समूह बनाना चाहते हैं जो मुफ़्त हो और जो लोगों के जीवन को सुविधाजनक बना सके। उनका फेसबुक और इंस्टाग्राम और अब व्हाट्सएप इसी विचार का हिस्सा हैं। इस विचार को साकार करने के लिए, जुकरबर्ग ने Internet.org शुरू किया और व्हाट्सएप खरीदा।

व्हाट्सएप का आविष्कार क्यों किया गया था?

व्हाट्सएप के अविष्कार का मकसद शुरुआत में सिर्फ एक दूसरे से बातचीत करना था। लेकिन बाद में इसके यूजर की बढ़ती पहुंच को देखते हुए इसमें अन्य फीचर एम्बेड किए गए।

जिससे सभी तरह के मीडिया टेक्स्ट, फोटो, वीडियो, लोकेशन, फाइल के साथ-साथ वीडियो और वॉयस कॉल करने की सुविधा भी आसानी से जुड़ गई। यह दुनिया के किसी भी कोने में किसी से भी संपर्क करने का आसान तरीका बनाने के लिए किया गया था।

व्हाट्सएप के फीचर

दोस्तों व्हाट्सएप के अंदर कई कमाल के फीचर हैं और व्हाट्सएप के हर नए अपडेट में कुछ और नए फीचर लॉन्च किए जाते हैं जो व्हाट्सएप यूजर्स को काफी पसंद आते हैं। वैसे तो इस ऐप के अंदर कई उपयोगी फीचर हैं, लेकिन उनमें से कुछ ऐसे फीचर हैं जो व्हाट्सएप के अंदर काफी इस्तेमाल किए जाते हैं, कुछ इस प्रकार हैं-

  • Group Chat
  • Group Video Calling
  • Voice Calling
  • End-To-End-Encryption
  • Last Seen On Off Mode
  • Documents
  • Whatsapp Payment
  • Chat Backup Option
  • Strikers
  • GIF
  • Emoji
  • Delete For Everyone Message Option
  • Fonts
  • Theme
  • Room
  • Location
  • File Sharing Option
  • Backup

व्हाट्सएप से जुड़े रोचक तथ्य

  • एक यूजर व्हाट्सएप पर हर महीने औसतन 1000 मैसेज भेजता है।
  • एक यूजर हफ्ते में करीब 195 मिनट व्हाट्सएप का इस्तेमाल करता है।
  • सोशल मीडिया पर 27% सेल्फी सिर्फ व्हाट्सएप के लिए ली जाती है।
  • Nokia सीरीज 40 फोन में व्हाट्सएप चलता था जो स्मार्टफोन नहीं है।
  • Nokia N95 सबसे पुराना फोन है जो अभी भी व्हाट्सएप को सपोर्ट करता है।
  • एंड्रॉइड स्टोर पर व्हाट्सएप सबसे अधिक डाउनलोड किए जाने वाले ऐप में पांचवें नंबर पर है।
  • व्हाट्सएप की कीमत नासा के एक वर्ष के बजट से अधिक है जो कि 17 अरब है।
  • एक व्हाट्सएप उपयोगकर्ता एक दिन में औसतन तेतीस बार व्हाट्सएप खोलता और देखता है।
  • एंड्रॉइड स्मार्ट वॉच के लिए व्हाट्सएप अगस्त 2014 में लॉन्च किया गया था।
  • व्हाट्सएप ने जनवरी 2015 में अपना वेब क्लाइंट लॉन्च किया था।
  • फेसबुक ने व्हाट्सएप को 19 अरब में खरीदा था लेकिन फेसबुक से पहले गूगल ने 10 अरब की पेशकश की थी।
  • व्हाट्सएप अब डेस्कटॉप के लिए भी उपलब्ध है।

प्रश्नोत्तरी

व्हाट्सएप के संस्थापक कौन हैं?
जान कौम, ब्रायन एक्टन

व्हाट्सएप की स्थापना कब हुई थी?
फरवरी 2009

व्हाट्सएप ने फेसबुक को कब खरीदा था?
9 फरवरी 2014

फेसबुक ने व्हाट्सएप को कितने में खरीदा?
19 अरब अमेरिकी डॉलर

व्हाट्सएप की मूल कंपनी कौन सी है?
फ़ेसबुक

व्हाट्सएप का मालिक कौन है?
फेसबुक / मार्क जुकरबर्ग

व्हाट्सएप के सीईओ कौन हैं?
विल कैथकार्ट

व्हाट्सएप का मुख्यालय कहाँ है?
मेनलो पार्क, कैलिफोर्निया अमेरिका

व्हाट्सएप किस देश की कंपनी है?
WhatsApp एक अमेरिकी कंपनी है।

निष्कर्ष

उम्मीद है की आपको यह जानकारी (WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai) पसंद आयी होगी। अगर आपको यह लेख (WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai) मददगार लगा है तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें । और अगर आपका इस आर्टिकल (WhatsApp किस देश का है | Whatsapp Kis Desh Ki Company Hai) से सम्बंधित कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेख के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles