बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं, बवासीर में मूंगफली खाना चाहिए या नहीं?

बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं – आलू…एक ऐसी सब्जी, जो किसी के भी साथ एडजस्ट हो जाती है। हमारे भोजन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। आलू एक प्रकार का कंद यानि जमीन के अंदर उगने वाली सब्जी है। इसका वैज्ञानिक नाम सोलेनम ट्यूबरोसम है। साल भर मिलने वाला आलू पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसलिए यह सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसमें स्टार्च अधिक होता है और चावल, गेहूं की तरह इसमें कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं, लेकिन कुछ बीमारियों में आलू खाना मना है।

आज के समय में लगभग 60 प्रतिशत लोगों को उम्र के किसी न किसी पड़ाव पर बवासीर की समस्या का सामना करना पड़ता है। इस रोग में गुदा के अंदर और बाहर तथा मलाशय के निचले हिस्से में सूजन आ जाती है। आमतौर पर बवासीर दो प्रकार की होती है, आंतरिक और बाहरी। आंतरिक बवासीर में मल त्याग के साथ खून निकलता है, जबकि बाहरी बवासीर में गुदा के आसपास के भाग में सूजन आ जाती है, जिसमें दर्द व खुजली होने लगती है।

आज के इस लेख में हम आपको बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं, बवासीर में मूंगफली खाना चाहिए या नहीं के बारे में जानकारी देने वाले है। इसके अलावा इस विषय से सम्बंधित अन्य जानकारी भी देने वाले है, इसलिए इस लेख के अंत तक बने रहे। तो आइये जानते है –

बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं (Bawasir Me Aloo Khana Chahiye Ya Nahi)

बवासीर में आलू नहीं खाना चाहिए। बवासीर के मरीजों को भी आलू का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। आलू के सेवन से उनकी बवासीर और भी बढ़ सकती है। इसलिए ऐसे रोगियों को आलू का सेवन नहीं करना चाहिए, नहीं तो बाद में पछताना पड़ सकता है। अगर वे आलू की सब्जी खाते भी हैं तो उन्हें हफ्ते में बहुत कम आलू का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा कब्ज के रोगियों को भी आलू का सेवन करने से मना किया जाता है।

- Advertisement -

इसके अलावा बवासीर में आपको शिमला मिर्च, कटहल, बैंगन, भिंडी, अरबी (गुइया), जामुन, आड़ू ,कच्चा आम, केला, सभी मिर्च का भी परहेज करना चाहिए।

बवासीर में मूंगफली खाना चाहिए या नहीं (Bawasir Me Mungfali Khana Chahiye Ya Nahi)

बवासीर में आप मूंगफली खा सकते है। बवासीर में मूंगफली खाने से कोई नुकसान नहीं होगा। लेकिन आपको इसका सेवन सिमित मात्रा में करना चाहिए। अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से बवासीर में समस्या हो सकती है।

मूंगफली की तासीर गर्म होती है और बवासीर में गर्म चीज नहीं खानी चाहिए या काम मात्रा में खानी चाहिए अनीता आपकी बवासीर की समस्या बढ़ सकती है। मूंगफली में फाइबर होता है जो कब्ज को रोकने में काफी मदद करता है।

बवासीर में क्या नहीं खाना चाहिए हिंदी में (Bawasir Me Kya Nahi Khana Chahiye)

बवासीर के मरीजों को मिर्च का सेवन नहीं करना चाहिए, चाहे मिर्च हरी हो या लाल। ऐसा इसलिए क्योंकि मिर्च के सेवन से मरीज के दर्द और जलन की समस्या और बढ़ सकती है।

अगर बवासीर के मरीज बाहर का खाना खाने से परहेज करें तो यह उनके लिए बहुत अच्छा होगा, क्योंकि बाहर के खाने में न तो नमक का ध्यान रखा जाता है और न ही मिर्च का। इसलिए बेहतर है कि घर का खाना ही खाया जाए।

राजमा, मसूर और बीन्स न खाएं। बवासीर के मरीजों के लिए भी इन चीजों का सेवन हानिकारक होता है। वैसे तो आमतौर पर लोगों को ऐसी चीजें बहुत पसंद आती हैं, लेकिन अगर आप बवासीर से परेशान हैं तो इन चीजों से दूरी बनाए रखना ही आपके लिए बेहतर होगा।

सुपारी, गुटखा, सिगरेट और पान मसाला न खाएं। इन चीजों का सेवन भी उतना ही हानिकारक होता है। इससे कैंसर हो सकता है। इससे बवासीर के मरीजों की परेशानी और बढ़ सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि सुपारी वाली किसी भी चीज का सेवन करने से बचें।

बवासीर के मरीजों को मांस, मछली और अंडे खाने से बचना चाहिए। दरअसल ये चीजें गर्म तो होती ही हैं साथ ही इन्हें पचाना भी थोड़ा मुश्किल होता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप इन चीजों से दूर ही रहें।

बवासीर के रोगियों को अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए। अदरक की तासीर गर्म होने के कारण यह व्यक्ति की परेशानी बढ़ा सकती है। जिसके कारण व्यक्ति को मल त्याग करते समय दर्द महसूस हो सकता है।

पाइल्स के मरीजों के लिए कॉफी का सेवन उनकी समस्या को और भी बढ़ाने का काम कर सकता है। कॉफी में मौजूद कैफीन डिहाइड्रेशन का कारण बनता है। जिसके कारण मल सख्त हो जाता है और एनल वेन्स पर दबाव पड़ता है। जिसके कारण व्यक्ति को मल त्यागने में परेशानी होती है।

अगर आप बवासीर से पीड़ित हैं तो बेहतर होगा कि आप ऐसी चीजें खाएं जो आसानी से पचने योग्य हों, जैसे पोहा, दलिया, ओट्स, फल, कच्चा सलाद और सब्जियां। इसके अलावा छिलके वाली दाल भी खा सकते हैं। खाने में अगर दही और छाछ शामिल हो तो बहुत अच्छा होता है. यह पेट को ठंडा रखता है जिससे बवासीर में काफी हद तक राहत मिलती है। जितना हो सके रेशेदार चीजें खाएं। इससे आपको काफी आराम मिलेगा और पेट भी साफ रहेगा।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने आपको बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं, बवासीर में मूंगफली खाना चाहिए या नही के बारे में जानकारी दी है। हमे उम्मीद है आपको यह लेख अच्छा लगा होगा, अगर आपको यह लेख बवासीर में आलू खाना चाहिए कि नहीं, बवासीर में मूंगफली खाना चाहिए या नहीं अच्छा लगा है, तो इसे अपनों के साथ भी शेयर करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles

You cannot copy content of this page