वर्डपैड क्या है? वर्डपैड का इस्तेमाल कैसे करें- (Wordpad In Hindi)

What Is Wordpad In Hindi: अगर आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं तो आपने वर्डपैड के बारे में जरूर सुना होगा। शायद आपने वर्डपैड का उपयोग भी किया होगा। यह एक बेहतरीन और सिंपल टेक्स्ट एडिटर है जिसे हर कोई आसानी से समझ सकता है।

वर्डपैड के विभिन्न संस्करण विंडोज के विभिन्न संस्करणों में उपलब्ध हैं। वर्डपैड एक बेसिक वर्ड प्रोसेसर होता है जो विंडोज 95 से प्रत्येक वर्शन में अवेलेबल होता है। इसका उपयोग दस्तावेज़ बनाने और संशोधित करने के लिए किया जाता है।

आज के इस लेख में हम आपको वर्डपैड क्या है, वर्डपैड की परिभाषा, वर्डपैड के एलिमेंट्स, वर्डपैड के उपयोग आदि के बारे में जानकारी देने वाले है। इसलिए इस लेख वर्डपैड क्या होता है को अंत तक जरूर पढ़े। तो चलिए शुरू करते है और जानते है की वर्डपैड क्या होता है (Wordpad Kya Hota Hai)

वर्डपैड माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बनाया गया एक टेक्स्ट एडिटर है। यह सभी प्रकार के विंडोज कंप्यूटर में उपलब्ध होता है। इसमें आप किसी भी तरह के नोट्स तैयार कर सकते हैं, टेक्स्ट फॉर्मेट बना सकते हैं। इसमें कई सारी खूबियां हैं जिसकी वजह से यह नोटपैड से अलग है।

वर्डपैड का सबसे अधिक उपयोग नोट्स बनाने के किया जाता है। यह एक वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर है जिसे माइक्रोसॉफ्ट द्वारा नोट्स बनाने के लिए डिजाइन किया गया है। हालाँकि माइक्रोसॉफ्ट वर्ड के आने के बाद इसका उपयोग बहुत कम हो गया है, लेकिन इसकी कुछ विशेषताएं इसे आज भी अद्वितीय बनाती हैं।

वर्डपैड क्या है? (Wordpad Kya Hai In Hindi)

वर्डपैड माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बनाया गया एक बेसिक वर्ड प्रोसेसर प्रोग्राम है। जो एमएस विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ ही इनबिल्ट आते हैं।

यह एक साधारण वर्ड प्रोसेसर है जिसका उपयोग साधारण नोट्स लिखने या दस्तावेज़ बनाने के लिए किया जाता है। यह नोटपैड की तुलना में अधिक उन्नत है, लेकिन यह एमएस वर्ड की तुलना में बहुत कम विशेष इसकी खासियत होती है क्योंकि इसमें एमएस वर्ड की तरह कई फॉर्मैटिंग टूल्स और फंक्शन्स उपलब्ध नहीं होते हैं।

इसमें कुछ ही बेसिक फॉर्मैटिंग टूल्स होते हैं जिनकी मदद से किसी डॉक्यूमेंट या नोट्स में फॉर्मैटिंग की जा सकती है। हालाँकि, इसमें नोटपैड की तुलना में अधिक फंक्शन और फॉर्मैटिंग टूल रहते हैं।

वर्डपैड में बनाए जा रहे डॉक्यूमेंट में हम बुलेट मार्क लगा सकते हैं, ऑब्जेक्ट या पिक्चर डाल सकते हैं, फॉन्ट कलर और बैकग्राउंड कलर बदल सकते हैं, अलाइनमेंट एडजस्ट कर सकते हैं, डेट टाइम इन्सर्ट कर सकते हैं और इसके अलावा और भी थोड़ी बहुत फॉर्मैटिंग ऑप्शन मोजूद होते है।

यह माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 95 के बाद सभी वर्जन में इनबिल्ट आता है, हमें इसे अलग से इंस्टॉल करने की जरूरत नहीं है।

वर्डपैड की परिभाषा (Definition Of Wordpad In Hindi)

वर्डपैड माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बनाया गया एक बेसिक वर्ड प्रोसेसर प्रोग्राम है। जो एमएस विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ इनबिल्ट आते हैं। यह एक साधारण वर्ड प्रोसेसर है जिसका उपयोग साधारण नोट्स लिखने या दस्तावेज़ बनाने के लिए किया जाता है।

वर्डपैड का इतिहास (History Of Wordpad In Hindi)

वर्डपैड का इस्तेमाल सबसे पहले Windows 95 ऑपरेटिंग सिस्टम में किया गया था। और उसके बाद विंडोज के सभी वर्जन के लिए वर्ड पैड लॉन्च किया गया। विंडोज 95 में वर्डपैड को माइक्रोसॉफ्ट राइट के स्थान पर रिप्लेस किया गया था।

आपके लिए यह जानना जरूरी है कि माइक्रोसॉफ्ट राइट एक वर्ड प्रोसेसर सॉफ्टवेयर है। जिसका उपयोग विंडोज 95 से पहले के संस्करणों में किया जाता था।

उसके बाद वर्डपैड यूजर्स को विंडोज के हर नए वर्जन में देखने को मिल जाता था। लेकिन उपयोगकर्ताओं के लिए विंडोज़ द्वारा वर्डपैड 2007 में कई उपयोगी सुविधाएँ जोड़ी गईं। जिसने वर्डपैड का उपयोग करना अधिक सुविधाजनक और उपयोगी बना दिया।

वर्डपैड के तत्व (Elements Of Wordpad In Hindi)

आइए अब जानते हैं कि वर्डपैड विंडो के मुख्य तत्व क्या हैं।

टाइटल बार (Title Bar)

टाइटल बार पूरे वर्डपैड विंडो के शीर्ष पर होता है, जिसमें खुली हुई फ़ाइल का नाम शो होता है। जब तक किसी फाइल को नाम के साथ सेव नहीं किया जाता, तब तक उसका नाम डॉक्यूमेंट रहता है।

क्विक एक्सेस टूलबार (Quick Access Toolbar)

इसमें सेव, अनडू, रीडू जैसे कमांड बटन होते हैं, जिनकी मदद से कमांड को क्विकली रन कराया जाता है।

टैब बार (Tab Bar)

टैब बार के हर टैब अलग-अलग टूल रिबन (Tool Ribbon) में उपलब्ध करता है। इसे रिबन टैब बार भी कहा जाता है।

रिबन (Ribbon)

रिबन में अलग-अलग टैब की सभी कमांड ग्रुप वाइज अरेंज्ड होते है।

रूलर (Ruler)

यह एक स्केल है जिसका इस्तेमाल डॉक्यूमेंट में टेक्स्ट एरिया को एक सही माप के साथ एडजस्ट करने और टैब सेटिंग आदि करने के लिए किया जाता है।

प्रोग्राम विंडो कंट्रोल

इसमें मिनिमाइज, मैक्सिमाइज और क्लोज बटन होते हैं, जिनकी मदद से वर्डपैड विंडो को मिनिमाइज, बड़ा या बंद किया जाता है।

स्क्रॉल बार (Scroll Bar)

यह वर्डपैड विंडो के साइड में स्लाइडर की तरह रहता है, जिसकी मदद से किसी बड़े डॉक्यूमेंट को स्क्रॉल करके ऊपर-नीचे, बाएं-दाएं किया जाता है।

इंसर्शन पॉइंट (Insertion Point)

यह कार्य क्षेत्र (वर्किंग एरिया) पर ब्लिंक करता हुआ एक छोटी लाइन के समान नजर आता है जो बताता है कि अगली टेक्स्ट की छपाई कहाँ होगी। इसे कर्सर भी कहा जाता है।

स्टेटस बार (Status Bar)

यह दस्तावेज़ पर माउस पॉइंटर की स्थिति दिखाता है। इसके राइट साइड में जूम लेवल कंट्रोल होता है जिसकी मदद से डॉक्यूमेंट को जूम इन-जूम आउट किया जाता है।

वर्डपैड का इस्तेमाल कैसे करें (How To Use Wordpad In Hindi)

वर्डपैड यूजर फ्रेंडली सॉफ्टवेयर है जिसकी वजह से हर यूजर इसे आसानी से समझ और इस्तेमाल कर सकता है। इसके टूल्स भी बेहद आसान हैं। आइए जानते हैं वर्डपैड के सभी टूल्स के बारे में।

1. बोल्ड फ़ॉन्ट (Bold Font)

इस टूल के द्वारा आप वर्डपैड में किसी भी फॉन्ट को बोल्ड करके उस पर फोकस कर सकते हैं। इसमें वह टेक्स्ट गहरा काला हो जाता है और सबसे खास नजर आता है।

2. फ़ॉन्ट को अंडरलाइन करें (Underline The Font)

इस टूल के द्वारा आप वर्डपैड में किसी भी फॉन्ट को अंडरलाइन कर सकते हैं ताकि वह फॉन्ट मुख्य फॉन्ट की तरह दिखाई दे। हम किसी हैडिंग को अंडरलाइन कर सकते हैं।

3. इटैलिक फ़ॉन्ट (Italic Font)

इस टूल के द्वारा आप वर्डपैड में किसी भी फॉन्ट को इटैलिक कर सकते हैं जिससे वह फॉन्ट टेढ़ा हो जाता है और दिखने में अच्छा लगता है।

4. भाषा (Language)

इस टूल के माध्यम से आप लिखे गए टेक्स्ट की भाषा बदल सकते हैं या आपके द्वारा चुनी गई भाषा में टेक्स्ट लिखे जायेंगे। वर्डपैड में 50 से ज्यादा भाषाएं हैं, जिनके जरिए आप अपने फॉन्ट को बेहतरीन तरीके से लिख सकते हैं।

5. आकार (Size)

इस टूल से आप किसी भी फॉन्ट का साइज बदल सकते हैं और उसे बड़ा या छोटा कर सकते हैं। अगर आप किसी हेडलाइन को बड़ा बनाना चाहते हैं तो इस टूल का इस्तेमाल किया जाता है।

6. स्ट्राइकथ्रू (Strikethrough)

इस टूल से आप किसी भी टेक्स्ट पर लाइन कर सकते हैं। मान लीजिए आपको किसी टेक्स्ट पर कोई लाइन दिखानी है तो इस टूल की मदद ली जाती है।

7. सबस्क्रिप्ट (Subscript)

इस टूल के जरिए आप किसी भी टेक्स्ट के नीचे नंबर दर्शा सकते हैं। इस टूल का प्रयोग विज्ञान के सूत्रों में किया जाता है। उदाहरण के लिए पानी का सूत्र H20 लिखने के लिए इस टूल का प्रयोग H के नीचे 2 लगाने के लिए किया जाता है।

8. सुपरस्क्रिप्ट (Superscript)

इस टूल के द्वारा आप किसी भी टेक्स्ट के ऊपर संख्या को दर्शा सकते है। जिसे गणित की भाषा में घात लगाना कहा जाता है। उदाहरण के लिए a3 में a के ऊपर 3 लगाने के लिए इस टूल का प्रयोग किया जाता है।

9. टेक्स्ट हाइलाइट कलर ( Text Highlight Color)

इस टूल से आप किसी भी फॉन्ट कलर से हाईलाइट कर सकते हैं, जिससे टेक्स्ट अलग नजर आता है। यदि आपने पुस्तक में किसी परिभाषा या किसी विशेष विषय को हाइलाइट पेन से चिह्नित किया है, तो यह टूल उसी तरह उपयोगी है।

10. टेक्स्ट कलर (Text Color)

इस टूल से आप किसी भी टेक्स्ट का कलर बदल सकते हैं ताकि वह आकर्षक दिखे।

11. इन्सर्ट पिक्चर (Insert Picture)

इस टूल के जरिए आप वर्डपैड में कोई भी इमेज ऐड कर सकते हैं।

12. इन्सर्ट पेंट ड्राइंग (Insert Paint Drawing)

यदि आप माइक्रोसॉफ्ट पेंट ड्राइंग को वर्डपैड में जोड़ना चाहते हैं, तो इस टूल का उपयोग किया जाता है।

13. इन्सर्ट डेट एंड टाइम (Insert Date And Time)

इस टूल का प्रयोग वर्डपैड में दिनांक और समय जोड़ने के लिए किया जाता है।

14. इन्सर्ट ऑब्जेक्ट (Insert Object)

इस टूल का उपयोग आपके वर्डपैड दस्तावेज़ में किसी भी प्रकार के ऑब्जेक्ट को इन्सर्ट करने के लिए किया जाता है, जैसे कि एडोब फोटोशॉप की कोई फाइल हो या कोई ग्राफ चार्ट।

15. फंड (Find)

इस टूल का प्रयोग वर्डपैड में किसी भी फॉन्ट को खोजने के लिए किया जाता है।

16. रिप्लेस (Replace)

किसी भी फॉन्ट को खोजने के बाद यदि उसे दूसरे टेक्स्ट से बदलना हो तो इस टूल का प्रयोग किया जाता है। जैसे अगर आपको पुरे पाठ में से राम को ढूंढ कर श्याम में बदलना है तो Find What में राम लिखा होगा और Replace With में श्याम लिखना होगा और Replace पर क्लिक कर दें, वह शब्द अपने आप बदल जाएगा।

17. सिलेक्ट आल (Select All)

इस टूल की मदद से आप अपना पूरा फॉन्ट सेलेक्ट कर सकते हैं। आप चाहें तो CTRL+A दबाकर भी पूरे टेक्स्ट को सेलेक्ट कर सकते हैं।

18. ज़ूम इन एन्ड ज़ूम आउट करें ( Zoom In And Zoom Out)

इन टूल्स की मदद से आप वर्डपैड को जूम इन और जूम आउट कर सकते हैं, यानी आप इसे बड़ा और छोटा कर सकते हैं।

19. स्टार्ट ए लिस्ट (Start A List)

इस टूल की मदद से आप वर्डपैड में लिस्ट फॉर्मेट बना सकते हैं। उदाहरण के तौर पर अगर किसी चीज के फीचर को लिस्ट में दिखाना हो तो इस टूल का इस्तेमाल किया जाता है।

20. लाइन स्पेसिंग (Line Spacing)

इस टूल से आप लाइन के बीच में जगह बना सकते हैं और उसे हटा भी सकते हैं।

वर्डपैड की विशेषताएं (Features Of Wordpad In Hindi)

  • यह एक लाइट वेट प्रोग्राम है, जिसकी वजह से यह लो-एंड पीसी पर भी बहुत आसानी से चलता है।
  • यह ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ इनबिल्ट आता है, जिसके कारण इसे अलग से इंस्टॉल करने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • इसमें डॉक्यूमेंट बनाकर पिक्चर, पेंट ड्राइंग, डेट एंड टाइम और ऑब्जेक्ट भी डाला जा सकता है।
  • यह फॉन्ट फॉर्मेटिंग, पैराग्राफ एलाइनमेंट सेटिंग, बुलेट मार्किंग, लाइन स्पेसिंग जैसे डॉक्यूमेंट फॉर्मेटिंग की सुविधा भी प्रदान करता है।
  • शुरुआती लोगों के लिए यह एक आसान वर्ड प्रोसेसर है, जिसे सीखने के बाद एमएस वर्ड जैसे वर्ड प्रोसेसर पर भी काम करना आसान हो जाता है।

वर्डपैड के उपयोग (Uses Of Wordpad In Hindi)

वर्डपैड के उपयोग की बात करें तो इसका प्रयोग मुख्य रूप से नोट्स बनाने या साधारण दस्तावेज, पत्र आदि बनाने के लिए किया जाता है। वर्डपैड का उपयोग कई कार्यों को करने के लिए किया जाता है जैसे कि

  • दस्तावेज़ बनाने, खोलने और सहेजने के लिए।
  • डाक्यूमेंट्स की फॉर्मेटिंग करने के लिए – जिसमें उनके साइज को बदला जाता है और प्रिंट का स्टाइल बदला जाता है साथ ही पेज का लुक भी बदला जा सकता है आदि।
  • आप दिनांक, चित्र और हाइपरलिंक सम्मिलित कर सकते हैं।
  • आप दस्तावेज़ को व्यू भी कर सकते हैं।
  • आप पेज मार्जिन भी बना सकते हैं।
  • आप दस्तावेज़ों को प्रिंट भी कर सकते हैं।

वर्डपैड को कैसे ओपन करें (How To Open Wordpad In Hindi)

कंप्यूटर में किसी भी प्रोग्राम को खोलने के कई तरीके हैं, जिनमें से तीन मुख्य तरीके यहां बताए जा रहे हैं।

पहला तरीका –

  • आल प्रोग्राम्स में जाएं।
  • इसके बाद एक्सेसरीज पर जाएं।
  • यहां वर्डपैड पर क्लिक करें…. इसके बाद वर्डपैड खुल जाएगा।

दूसरा तरीका –

कीबोर्ड पर Window + R बकीज दबाकर रन कमांड बॉक्स खोलें।

यहां वर्डपैड या वर्डपैड टाइप करें। exe फिर OK पर क्लिक करें… उसके बाद वर्डपैड खुल जाएगा।

तीसरा तरीका –

विंडोज सर्च में जाएं और वर्डपैड टाइप करें…

उसके बाद वर्डपैड आपकी सर्च लिस्ट में सबसे ऊपर दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें…. इसके बाद वर्डपैड खुल जाएगा।

वर्डपैड और नोटपैड में क्या अंतर है?

वर्डपैड और नोटपैड सॉफ्टवेयर को लगभग एक ही माना जाता है। लेकिन वर्डपैड में कई ऐसे फीचर जो नोटपैड सॉफ्टवेयर में नहीं हैं, आइए जानते हैं उनके बारे में।

नोटपैड एक टेक्स्ट एडिटर है जबकि वर्डपैड एक बेसिक वर्ड प्रोसेसर प्रोग्राम है। नोटपैड में सिर्फ टेक्स्ट टाइप किया जा सकता है। वहीं वर्डपैड में टेक्स्ट की बेसिक फॉर्मेटिंग के साथ-साथ फॉन्ट के स्टाइल को भी बदला जा सकता है।

नोटपैड में बनाई गई फाइल .txt फॉर्मेट में सेव होती है जबकि वर्डपैड में फाइल .rtf (रिच टेक्स्ट फॉर्मेट) में सेव होती है।

यह भी पढ़ें – 

FAQs For Wordpad In Hindi

वर्डपैड का एक्सटेंशन क्या होता है?
वर्डपैड में बनाई गई फ़ाइल का एक्सटेंशन डिफ़ॉल्ट रूप से “.rtf” होता है।

वर्डपैड कैसे खोलते हैं?
कीबोर्ड पर Window + R कीज दबाकर रन कमांड बॉक्स खोलें। यहां वर्डपैड या वर्डपैड टाइप करें। exe फिर OK पर क्लिक करें… उसके बाद वर्डपैड खुल जाएगा।

वर्डपैड में कितने मेनू होते हैं?
होम टैब में कुल पांच ग्रुप होते हैं। इन ग्रुप्स के नाम क्रमश – क्लिपबोर्ड, फॉन्ट, पैराग्राफ, इन्सर्ट और एडिटिंग हैं।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख वर्डपैड क्या होता है जरुर पसंद आया होगा। हमारा हमेशा से यही प्रयास रहा है कि पाठकों को सम्बंधित लेख बारे में पूरी जानकारी प्रदान की जाए, ताकि किसी अन्य साइट्स या इंटरनेट पर उस लेख के संदर्भ में खोजने की आवश्यकता ही न पड़े।

अगर आपको इस लेख को लेकर कोई भी डाउट हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होना चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमे बता सकते है।

लेख के अंत बने रहने के लिए आपका धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay in Touch

spot_img

Related Articles